क्यों दी महिलाओं ने चक्काजाम की चेतावनी ?

  भरतपुर। काफी सालों से पक्के रास्ते की मांग को लेकर ज्ञापन के बावजूद जब प्रशासन पर जूं तक नही रेंगी तो मजबूरन इन्दिरा आवास कॉलोनी अड्डा निवासी ग्रामीण महिलाओं ने जिला कलक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन करके जिला कलक्टर संदेश नायक को ज्ञापन थमाया। जिसमें सडक़ बनवाने की मांग करते हुए ही चेतावनी भी दी …

क्यों दी महिलाओं ने चक्काजाम की चेतावनी ? Read More »

September 25, 2018 7:42 am

 

भरतपुर। काफी सालों से पक्के रास्ते की मांग को लेकर ज्ञापन के बावजूद जब प्रशासन पर जूं तक नही रेंगी तो मजबूरन इन्दिरा आवास कॉलोनी अड्डा निवासी ग्रामीण महिलाओं ने जिला कलक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन करके जिला कलक्टर संदेश नायक को ज्ञापन थमाया। जिसमें सडक़ बनवाने की मांग करते हुए ही चेतावनी भी दी है कि यदि उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो ग्रामीण चक्का जाम व विरोध प्रदर्शन करेंगे।

नगर निगम के वार्ड नंबर चार की इंदिरा आवास कॉलोनी अड्डा में ग्रामीणों को निकलने के लिए सडक़ नहीं है जिस कारण बरसात के मौसम में चारों तरफ जलभराव के कारण कच्चे रास्ते भी बंद हो जाते हैं जिससे ग्रामीणों को निकलने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है । वहीं ग्रामीणों व स्कूली बच्चों को काफ ी लंबी दूरी तय करके दूसरे गांव से होकर निकले को मजबूरन होना पडता हैं।

हालांकि रास्ते की मांग को लेकर ग्रामीणों ने कई बार नगर निगम और प्रशासनिक अधिकारी से गुहार लगाई है लेकिन कोई फ ायदा नहीं हो सका है । ग्रामीण महिलाओं का कहना है कि वे पहले जिस रास्ते से होकर निकलते थे वह रास्ता आर्मी एरिया में होने के कारण आर्मी ने अब बंद कर दिया और दूसरी तरफ रेलवे विभाग ने भी बंद कर दिया है

जिसके बाद ग्रामीणों का दोनों तरफ का रास्ता बंद हो गया है और जो कच्चे रास्ते हैं वहां कुछ अन्य ग्रामीणों ने अतिक्रमण करके रास्ते को बंद कर रखा है जबकि यह कॉलोनी करीब 100 वर्ष पुरानी है लेकिन प्रशासन ने ग्रामीणों को निकलने के लिए रास्ते का कोई समाधान नहीं किया है। प्रदर्शन करने वाली महिलाओं में शीला देवी, ईश्वरीदेवी सहित अनेक महिलायें मौजूद थीं।

Prev Post

तिवाडी ने सवर्ण आरक्षण के लिए बताया फार्मूला

Next Post

कांग्रेस ही नहीं भाजपा भी गुटबाजी से है परेशान

Related Post