प्रदेश में वायरल का प्रकोप, हर घर से एक बीमार

viral

Jaipur news / Dainik reporter : राज्य में मौसम बदलने के साथ ही वायरल ( viral ) ने पांव पसारना शुरू कर दिया है। इसके चलते खांसी और बुखार के मरीजों की संख्या में पिछले एक सप्ताह में बेतहाशा बढोतरी दर्ज की गई है।

खांसी, जुकाम और बुखार (Cough, cold and fever) के अलावा डेंगू, चिकनगुनिया और स्क्रब टायफस (Dengue, chikungunya and scrub typhus) के रोगी भी बढते जा रहे हैं। इन बीमारियों पर रोक लगाने में चिकित्सा विभाग पूरी तरह नाकाम होता जा रहा है।

बुखार के कारण राजधानी के सभी चिकित्सालयों में मरीजों की संख्या में बेतहाशा बढोतरी दर्ज की गई है। इसके साथ ही निजी चिकित्सालयों में प्रतिदिन सैंकडों की संख्या में इसके रोगी आ रहे हैं।

शहर के एसएमएस, जयपुरिया और कांवटिया अस्पताल में सुबह से ही चैकअप के लिए मरीजों की भीड जुटना शुरू हो जाती है जो दोपहर बाद तक भी कम नहीं हो रही है।

चिकित्सकों ने बताया कि वायरल का मुख्य कारण बदलता मौसम है। मौसम में हो रहे बदलाव के कारण गले में चुभन होती है जिसके कारण जुकाम और खांसी शुरू हो जाती है और फिर उसके बाद बुखार आ जाता है।

वायरल से बचने के लिए एकदम से कम तापमान वाले स्थान पर जाने से बचना चाहिए। लोगों को बुखार के मरीज से भी दूर रहने के साथ ही स्वच्छता का ध्यान रखना चाहिए।

इसके साथ ही मरीज को घर पर ही दवाएं लेने से परहेज करना चाहिए और समय समय पर मरीज के शरीर का तापमान भी नापते रहें। बुखार 100 डिग्री से ज्यादा होने पर तत्काल चिकित्सक से सलाह लें।

वायरल से बचने के लिए चिकित्सकों ने सलाह दी है कि ज्यादा भीड भाड में जाने से बचना चाहिए साथ ही संयमित दिनचर्या भी अपनाई जाए।

इसके अलावा वायरल के रोगी से भी दूरी बनाए रखनी चाहिए। घरों पर नियमित रूप से साफ सफाई हो और मच्छरों का विशेष ध्यान रखा जाए।