वेज मोमोस रेसिपी

April 12, 2018 6:55 am

Veg Momos Recipe

वेज मोमोस भारत में खाए जाने वाले चाइनीज रेसिपिज में बहुत ही मशहूर डिश है. चाइनीज भेल बनाने की रेसिपी यहाँ पढ़ें. ये नेपाल और तिब्बत पारम्परिक (ट्रेडिशनल) खाद्य है. चीन, नेपाल, तिब्बत, भूटान और भारत के अन्य उत्तरी –पूर्वी राज्य में इसके विभिन्न रूपों को डिम-सम, वानटन आदि के नाम से जाना जाता है. भारत में इन दिनों मोमोस बहुत ही मशहूर हो चला है, जो कई स्ट्रीट वेंडरों द्वारा बेचा जाता है. ये स्ट्रीट वेंडर इसे चिली सूप के साथ बेचते हैं. अब पूरे भारत में लोगों द्वारा इसे बड़े चाव से खाया जा रहा है. मोमोस छोटे- छोटे आकार का स्नैक्स होता है, जिसके अन्दर वेजिटेबल, मशरूम, टोफू, मीट, चिकेन आदि भरा होता है. मशरूम दो प्याज रेसिपी व फ़ायदे यहाँ पढ़ें. इस भरी हुई चीज़ों के साथ ही मोमोस की रेसिपी और नाम बदलता है. यहाँ पर मोमोस बनाने की पूरी विधि का वर्णन किया जाएगा. मोमोस प्रायः हर उम्र के लोग खा सकते हैं. इसकी सबसे बड़ी बात ये है कि इसमें तेल का बहुत कम प्रयोग होता है, मसाले आवाश्यकानुसार कम या अधिक हो सकते हैं.

मोमोस अब ‘इंडियन- चाइनीज’ रेसिपी बन चूका है, तात्पर्य ये है कि मोमोस बनाने के लिए अब चाइनीज के साथ साथ इंडियन टच भी दिया जा रहा है. अतः इसके अनोखे टेस्ट के लिए विशेष तरह के मसालों का प्रयोग किया जाता है. नीचे मोमोस बनाने के लिए विशेष सामग्रियों का वर्णन किया जा रहा है.

प्रति 2 व्यक्ति के लिए  

लोई के लिए

मैदा1 कपतेल½ चम्मचनमक¼ चम्मच अथवा स्वादानुसारपानीआवश्यकतानुसार

मसाले के लिए     

कटा हुआ बन्द गोभी½ कपकसा हुआ पनीर½ कपबेल मिर्च¼ कपबारीक कटा हुआ प्याज1 मध्यम आकार काकटा हुआ धनिया पत्ता5 चम्मचकटा हुआ लहसुन4 कलीपिसा हुआ अदरक1 इंच काहरी मिर्च1 चम्मच पेस्टनमकस्वादानुसारगाजर कटा हुआ1 या 2काली मिर्च¼ चम्मच

चटनी के लिए

टमाटर 2 मध्यम आकार काहरी मिर्च1 या 2लहसुन4 कलीसरसो का तेल1 चम्मचकटा हुआ धनिया पत्ता2 चम्मचनमकस्वादानुसार

वेज मोमोस रेसिपी

सभी सामग्रियां तैयार हो जाने के बाद आपको विधि पर विशेष ध्यान देना होता है. मोमोस को आकार देते समय, या चटनी तैयार करते समय कई बातों का विशेष ध्यान रखना होता है, जिसका ज़िक्र नीचे एक के बाद एक किया जाएगा :

मैदा गूँथने के समय मैदे में हलके तेल के साथ नमक भी डाल दें. इसके बाद हलके हल्के पानी देते हुए मैदा गूँथते रहें. ध्यान रखें कि मैदा किसी भी तरह कड़ा न हो पाए. मैदा गुंथे जाने के बाद इसे एक गीले कपडे से ढँक कर रख दें, ताकि ये कड़ा न हो पाए.

वेजिटेबल मसाला बनाने के लिए सबसे पहले अपने गैस पर एक पेन में तेल गर्म करें. तेल हलके गर्म होने पर इसमें कटा हुआ लहसुन छोड़े. लहसुन डालने के लगभग एक मिनट के बाद से इसमें कटी हुई हरी मिर्च और अदरक डाल कर अच्छे से भुने. लहसुन के फायदें एवं उपयोग यहाँ पढ़ें. इस समय आंच कम रखना ही उचित होगा. इसके बाद कटा हुआ प्याज डाल कर भुन लें.

इसमें कटा हुआ गाजर डालें और 3 से 4 मिनट तक माध्यम आंच पर पकने दें. हल्का पक जाने पर इसमें कटा हुआ बन्दा गोभी डालें और भूनते रहें. बाँदा गोभी 8 से 10 मिनट कर भुना जाना ज़रूरी है.

बाँदा गोभी अच्छे से भुने जाने के बाद इसमें सोया सौस, काली मिर्च पाउडर और हल्की चीनी भी डालें. इन सभी मसालों को अच्छे से मिला लेने के बाद आंच बंद कर दें और इस मिक्सचर को ठन्डे होने दें. ठन्डे हो जाने पर इसमें आवश्यकतानुसार नमक डाल कर अच्छे से मिला लें.

मोमोस को बढ़िया आकर देने के लिए सबसे पहले अपने गुंथे हुए मैदे को एक बार फिर हलके पानी के छींटे देकर गूँथ लें. तदोपरांत संख्या की आवश्यकतानुसार अलग अलग लोई में सामान आकर में बाँट लें. अब एक एक लोई लेकर इसे गोल गोल आकर में बेलें. इसके बाद बेले गये मैदे के आकार के अनुसार इसमें मसाला भर लें तथा हर तरफ से सील करके हलके दबाएँ. इस तरह मोमोस को सही आकार मिल जाएगा.

सभी लोई में मसाला भर लेने के बाद इसे एक स्टील अथवा एल्युमीनियम स्टीमर में डाल कर रखें. इस समय ध्यान रखने वाली बात ये है कि स्टीमर में रखे गये मोमोस एक दुसरे से अलग अलग रखे गये हों. क्यों कि यदि दो मोमोस को एक दुसरे से चिपका कर रखा गया तो पकने के बाद दोनों आपस में चिपक जायंगे.

एक इतना बड़ा बर्तन लें कि जिसमे स्टीमर रखा जा सके. इसमें पानी भर कर गैस पर चढ़ा दें. इस समय समय बचाने के लिए अधिक आंच की आवश्यकता पड़ सकती है. अतः आंच बढ़ा दें.

जब बरतन में पानी अच्छी तरह से उबलने लगे तो स्टीमर को इसमें इस तरह से रखें कि स्टीमर का लगभग 4 से 5 इंच का हिस्सा इसके पानी में डूब सके. इसके बाद 10 से 15 मिनट तक स्टीमर को इसमें छोड़ दें.

चटनी बनाने के लिए एक कूकर में कुछ पानी लें. इसमें कटा हुआ टमाटर, लहसुन और मिर्ची डाल कर मध्यम आंच पर चढ़ा दें. मध्यम आंच पर इसे तब तक पकने दें, जब तक कूकर में एक सीटी न लग जाए.

एक सीटी के बाद इस चटनी को एक बर्तन में डालें. इसके बाद इसे या तो मिक्सर या किसी चम्मच से अच्छे से मिलाएं. मिलाते समय इसमें नमक, काली मिर्च तथा अन्य आवश्यकतानुसार मसाले डालें. मिलाने के बाद इसे एक बर्तन में डालें.

अब अपने तथा अपने दोस्तो के लिए आवश्यकतानुसार परोसें.

वेज फ्राइड मोमोस बनाने की विधि

ऊपर दी गयी विधि स्टीम मोमोस के लिए सही है, किन्तु यदि आप स्टीम मोमोस की जगह कुछ फ्राई किया हुआ खाना चाहते हैं, तो ये भी मुमकिन है. आप बड़े आराम से अपने वेज मोमोस को फ्राई भी कर सकते हैं. मोमोस को फ्राई करने की विधि का वर्णन नीचे किया जा रहा है:

मोमोस की लोई तथा मसाला भरने की प्रक्रिया यहाँ स्टीम मोमोस की ही तरह है. अतः आप अपने संख्या के आवश्यकतानुसार लोई में मसाला भर के मोमोस तैयार कर लें.

इसके बाद एक किसी डीप फ्राइंग पैन में तेल डाल कर ओवन पर चढ़ा दें. कुछ समय तक तेल गर्म होने दें और तब तक इंतज़ार करें जब तक तेल से धुआं ख़त्म न हो जाए. धुआं ख़त्म हो जाने पर इसमें गुंथे हुए मैदे का एक छोटा सा टुकड़ा डालें. यदि ये टुकड़ा तल पा रहा है तो इसका मतलब है कि तेल गर्म हो चूका है.

इस गर्म तेल में अपने बनाए गये मोमोस को एक के बाद एक करके डालें. यदि पैन छोटी हो तो एक साथ 2-3 मोमोस ही डालें.

इन मोमोस को कुछ देर तक फ्राई करें. फ्राई करने के साथ ही बीच बीच में हलके तौर पर मोमोस पलटते रहें. जब मोमोस लाल होने लगे तो समझ जाएँ कि मोमोस फ्राई हो चुका है. इसे निकाल लें तथा पेपर टॉवल पर अतिरिक्त तेल सूखने के लिए छोड़ दें.

इसी तराह बाक़ी बचे मोमोस को भी फ्राई कर लें. और चटनी के साथ गर्मागर्म सर्व करें. चटनी बनाने की विधि पहले जैसी ही है.

विशेष बातें (Notes)

यदि आपके पास स्टीमर न हो तो आप मोमोस स्टीम करने के लिए प्रेशर कुकर का भी इस्तेमाल कर सकते है. इसके लिए आप कूकर की सिटी निकालने के बाद इसका प्रयोग करें.

इसके लिए एक विशेष प्रकार का बम्बू स्टीमर भी पाया जाता है. आप इसका भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

आप स्टीमर में बंदगोभी के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते है. ये पत्ते मोमोस को एक दुसरे से चिपकने से बचायेंगे.

यदि फ्राइड मोमोस खाना चाहते है तो इसे पहले हल्का सा स्टीम कर लें जब यह अधपका हो जाये तब इसे तेल में तलें.

मोमोस न्यूट्रीशन टेबल (Veg Momos nutrition facts)

वेज मोमोस में कई तरह की सब्ज़ियो का इस्तेमाल होता है. अतः इसमें पौष्टिक पदार्थ पाया जाता है. नीचे मोमोस का न्यूट्रीशन टेबल दिया जा रहा है.

प्रति 1 मध्यम आकार के मोमोस में

कैलोरी40फैट2 ग्रापोलीअनसेच्युरेटेड0 ग्रामोनोअनसेच्युरेटेड0 ग्राप्रोटीन1 ग्रापोटैशियम40 ग्रासोडियम50 ग्राफाइबर1 ग्रा

मोमोस अपने स्वाद की वजह से लगभग सभी लोगों में पसंद किया जाता है. इसके फ्रायिंग तथा स्टीमड दोनों ही प्रकार को बहुत चाव से खाया जाता है. यदि आपका मन कुछ स्पाइसी और लजीज खाने का कर रहा हो, तो इसे अपने तथा अपने दोस्तों के लिए बना सकते हैं. नाश्ते के लिए ये बहुत ही बेहतरीन विकल्प है. अतः जब भी मन करे या चाहे अनचाहे मेहमान घर में तशरीफ़ लायें तो उनके स्वागत में आप बहुत आसानी से मोमोस बना सकते है. इसमें खर्च भी बहुत अधिक नहीं है और ज़ायके में भी लज़ीज़ होता है. इस रेसिपी की सहयता से आप जब चाहें अपने घर में मोमोस बना सकते हैं.

Prev Post

आमेर हत्या मामला - महिला की शिनाख्त नहीं हो सकी - पुलिस के हाथ लगे अहम सुराग, सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दिया हत्यारा

Next Post

कांग्रेस लोगों को बांटने का कार्य कर रही है- शेखावत, छोले बटूरे खाकर अनशन का दिखावा करती है कांग्रेस -अजीत सिंह मेहता, अनशन उपवास के जरीए भाजपा का शक्ति प्रदर्शन

Related Post