वसुंधरा राजे  ने जायल में पेयजल परियोजना का किया शुभारंभ

पेयजल परियोजना का किया शुभारंभ करती हुई मुख्यमंत्री वसुुंधरा राजेे दिल मैं है नागौर

May 1, 2018 7:48 pm

पेयजल परियोजना का किया शुभारंभ करती हुई मुख्यमंत्री वसुुंधरा राजेे दिल मैं है नागौर

नागौर । मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने आज मंगलवार काे नागौर जिले के जायल कस्बे में बटन दबाकर नहरी पेयजल परियोजना का शुभारंभ किया। राजे ने कहा कि सरकार ने नागौर की जनता से किए गए वादे को पूरा कर दिया है। अब से मातासुख परियोजना से जुड़े करीब 120 गांवों के लोगों को पीने के लिए मीठा पानी मिलेगा।

इस दौरान कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी, जिला प्रभारी मंत्री बंशीधर बाजिया, नागौर विधायक हबीबुर्रहमान, सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक, मकराना विधायक श्री राम भींचर, मेड़ता विधायक सुखराम नेतड़िया, भाजपा प्रदेश मंत्री सरोज प्रजापत आैर प्रदेश कोषाध्यक्ष रामकुमार भूतड़ा आदि माैजूद थे।
मुख्यमंत्री राजे ने फिर कहा – ‘नागौर मेरा दिल’
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि नागौर राजस्थान का दिल है और मेरा दिल भी यहां रहता है। कभी नाराज हो जाते हो, कभी प्यार देते हो। उन्होंने कहा कि हमने हर क्षेत्र में काम किया है। पांच साल पहले सुराज संकल्प यात्रा के दौरान नागौर के गांधी चौक में सभा के बाद से आज तक मेरा दिल नागौर वालों से बंधा हुआ है। उस समय इतना नहीं सोचा था कि इतना मुश्किल होने वाला है, नागौर को पानी पिलाना। वर्ष 2003 में भाजपा के राज में एक सपने के के रूप में देखा था, लेकिन बीच में कांग्रेस ने कुछ नहीं किया, इसलिए देरी हुई। अब पूरे जिले को हिमालय का मीठा पानी पिलाएंगे।
सरकार बदलने के कारण काम अटका
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तो वर्ष 2010-11 में ही नागौर को मीठा पानी पिला देते, लेकिन सरकार बदलने के कारण काम अटक गया। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने नागौर में 10 हजार करोड़ के काम करवाए हैं, जो कि प्रदेश में सबसे अधिक हैं। किसानों के बिना नहीं चल सकती सरकार मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान के बिना कोई सरकार चल नहीं सकती। एक जमाने में राजस्थान को कुछ राशि मिली, लेकिन अब 50 हजार करोड़ मिले हैं, इसके बावजूद खुश नहीं है। अब 30 लाख किसानों को फायदा होगा। उन्होंने कहा कि जब सत्ता में आए तो ढाई लाख करोड़ का कर्ज राज्य पर था। 60 हजार करोड़ का कर्ज बिजली विभाग पर था

आपका प्यार जरूरी
मुख्यमंत्री राजे ने कहा किशिक्षा के क्षेत्र में जो प्रदेश पहले 26वें स्थान पर था, वो आज देश में दूसरे पायदान पर है। मुख्यमंत्री ने एक बार फिर कहा कि आपकाी बहु व बेटी होने के नाते हम ये काम करते रहेंगे। राजस्थान ने देश के साथ विदेश में भी नाम कमाया है। उन्होंने कहा कि हैलीकॉप्टर में बैठना आसान नहीं, लेकिन थकान तब जाती है, जब आप मुस्कुराते हो। प्यार बिना नहीं चल सकती। आपका प्यार बना रहे। अन्याय के खिलाफ लडूंगी और आपकी बात आगे तक पहुंचाऊंगी। बड़े बुजुर्गों का हाथ सिर से हटना नहीं चाहिए।

Prev Post

जयपुर आरबीआई बैंक के कम्प्यूटर रूम  में लगी आग

Next Post

मुख्यमंत्री वसुंधरा को मोदी ने पहला राजनीतिक झटका दिया

Related Post