संभागीय आयुक्त अजमेर आरुषि मलिक ने सरपंचों से जन संवाद किया और समस्याएं सुनी

Todaraisingh News। टोडारायसिंह में संभागीय आयुक्त अजमेर आरुषि मलिक शुक्रवार को पंचायत समिति सभागार में विकास कार्योे व मनरेगा सहित अन्य कार्याें समीक्षा की जिसमें टोडारायसिंह उपखण्ड क्षेत्र में सामाजिक सुरक्षा को लेकर सभी पंचायतों के ग्राम विकास अधिकारियों तथा सरंपचों की उपस्थिति में बैठक आयोजित की। बैठक मंे आयुक्त ने सीधे सरपंचों से संवाद …

संभागीय आयुक्त अजमेर आरुषि मलिक ने सरपंचों से जन संवाद किया और समस्याएं सुनी Read More »

September 11, 2020 5:13 pm

Todaraisingh News। टोडारायसिंह में संभागीय आयुक्त अजमेर आरुषि मलिक शुक्रवार को पंचायत समिति सभागार में विकास कार्योे व मनरेगा सहित अन्य कार्याें समीक्षा की जिसमें टोडारायसिंह उपखण्ड क्षेत्र में सामाजिक सुरक्षा को लेकर सभी पंचायतों के ग्राम विकास अधिकारियों तथा सरंपचों की उपस्थिति में बैठक आयोजित की। बैठक मंे आयुक्त ने सीधे सरपंचों से संवाद किया तथा उनकी समस्याओं सुनीं।

अधिकांश सरपंचों में अतिक्रमण तथा सामाजिक सुरक्षा को लेकर शिकायत की। आयुक्त् आरुषि मलिक ने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिए िक अामजन की समस्याओं का समय पर तथा तत्काल निस्तारण करें। बैठक मनरेगा कार्याें की समीक्षा करते हुए प्रत्येक ग्राम विकास अधिकारी को अधिक से अधिक लोगों को रोजगार देने पर जोर दिया। गांवाें में बरसात से क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत करने तथा सड़कों के दो किनारों पर बिलायती बबूल को काटने के लिए पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता को निर्देश दिए।

उन्होंने गरीब किसानों जो सीमांत किसान है उनको व्यक्तिगत लाभ पंहुचाने पर जोर दिया। इस अवसर पर सामाजिक सुरक्षा को लेकर ब्लॉक स्तर पर िनर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति नहीं होने पर आयुक्त ने कहा कि टोडारायिसंह में किसी ने मेहनत ही नहीं की, यदि मेहनत करते तो आज कई गरीब वृद्धजनों को पेंशन का लाभ मिला होता। सभी प्रगति में शून्य रिपोर्ट पर नाराजगी जताई तथा केटेगरी चार में मनरेगा की स्कीम है, उसमें मेंे भी शून्य रिपोर्ट शून्य आने पर नाराज हुई।

यहां पर स्थिति बहुत खराब है। बैठक में लाम्बाकलां के निवासी ने बताया कि भामाशाह में विधवा नहीं होने से विधवाओं को पंेशन व पालनहाहर योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इस पर आयुक्त मलिक ने कहा कि प्रत्येक पंचायतवार चिंिहत करने का कार्य शुरू कर ऐसी माताओं के नाम जोडा जाए। इसके लिए पंचायत समिति स्तर पर निशक्तजन शिविर का आयोजन किया जाएगा ताकि निशक्तजनों को भी पेंशन का लाभ मिल सकें। इस अवसर पर जिला कलक्टर गौरव अग्रवाल, सीईओ टोंक नवनीत कुमार, उपखण्ड अधिकारी श्याम सुंदर चेतीवाल, तहसीलदार मनमोहन गुप्ता, बीसीएमओ रोहित डण्डोरिया, सीबीईईओ राजेंद्र प्रसाद शर्मा, कार्यवाहक विकास अधिकारी महेंद्र कुमार जैन सहित ब्लॉक स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Prev Post

जन्मदिन के मौके पर रक्तदान शिविरो के रिकाँर्ड बनाने पर लोगो का असीम प्यार और स्नेह मिला, मै हमेशा इसका कायल रहूंगा - सचिन पायलट

Next Post

जयपुर में निर्माणाधीन मंदिर की छत गिरने से एक मजदूर की मौत

Related Post