किसान आंदोलन हुआ तेज़ शाहजहांपुर बॉर्डर के लिए उदयपुर से भी पहुंचा जत्था

File Photo

Udaipur news। किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए उदयपुर से भी जत्था शाहजहांपुर बॉर्डर पहुंचा है। यह जत्था पिछले 25 दिनों से शाहजहांपुर बॉर्डर पर बैठे राजस्थान, हरियाणा, गुजरात व महाराष्ट्र के किसानों के साथ धरने पर बैठेगा।

किसान महासभा राज्य उपाध्यक्ष चंद्रदेव ओला ने बताया खेती-किसानी को कॉर्पोरेट के हवाले करने की नीयत से लाये गए कृषि विधेयकों के खिलाफ आंदोलन मे किसान अब सिर्फ पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तरप्रदेश से ही नहीं, बल्कि पूरे देशभर से दिल्ली पहुंचने लगे है। 26 जनवरी को किसान मार्च मे भी उदयपुर से किसानों की भागीदारी के लिए संभाग में यात्रा का कार्यक्रम भी तय हुआ है।

डीवाईएफआई राज्य कमेटी सदस्य पवन बेनिवाल ने बताया कि उदयपुर में किसानों के समर्थन में वाम दलों के कार्यकर्ता, नागरिक, किसान, मजदूर संगठनों ने कई कार्यक्रम किये हैं। यह कार्यक्रम केंद्रीय समन्वय समिति के आह्वान पर दिसम्बर में किए गए। अब उदयपुर से पहला जत्था दो गाड़ियों से रवाना होकर शाहजहांपुर पहुंच गया है। इसमें किसान महासभा, किसान सभा, केंद्रीय श्रमिक संगठन एक्टू और सीटू के कार्यकर्ता शामिल हैं। उदयपुर से जाने वालों में शंकरलाल चैधरी, माजिद खान, गौतम मीणा, पूरणमल, शंकरलाल मीणा, रमेश, देवीलाल आदि शामिल हैं।