टोंक जिले में बर्ड फ्लू का कहर, 20 कौओं की मौत , अलर्ट जारी

Tonk News  । प्रदेश के कई जिलों में फैला बर्ड फ्लू का कहर अब टोंक जिले में भी आ गया है। बुधवार को ही 20 कौओं की मौत हुई है। इस फ्लू के बाद अन्य पक्षियों में भी महामारी फैलने की सम्भवना बढ़ गई है। ऐसे में पशु पालन विभाग ने जिले में अलर्ट जारी किया है। विभाग के मुताबिक टोंक शहर स्थित नेहरू पार्क में आधा दर्जन, जिले के दूनी, देवली व उनियारा क्षेत्र में बुधवार को एक साथ 15 कौए मृत मिले। इससे जिलेभर में सनसनी फैल गई। वहीं विभाग भ्भी पक्षियों को लेकर मुस्तैद हो गया है। पशु पालन विभाग के संयुक्त निदेशक मक्खनलाल दिनोदिया ने बताया कि इन दिनों बर्ड फ्लू का कहर जारी है।

टोंक जिले में बर्ड फ्लू का कहर, 20 कौओं की मौत , अलर्ट जारी 1

अब तक तो झालावाड़, बारां, कोटा, जोधपुर, पाली और जयपुर जिले में ही कौओं की असमय मृत्यु के आंकड़े सामने आ रहे थे, लेकिन अब टोंक जिले में भी कौओं की मौत सामने आ रही है। ऐसे में एवियन इन्फ्लुएजा रोग के जुनोटिक महत्व तथा रोग के कुक्कुट व्यवसाय पर पडऩे वाले संभावित दुष्प्रभाव के मध्यनजर रोग के रोकथाम को लेकर निर्देश जारी किए गए हैं।

टोंक जिले में बर्ड फ्लू का कहर, 20 कौओं की मौत , अलर्ट जारी 2

लोगों को पक्षियों की असामान्य मृत्यु दिखाई देने पर विभाग से सम्पर्क करने को कहा गया है। इधर नेहरू पार्क, दूनी क्षेत्र में हुई कौओं की मौत के बाद विभाग टीम मौके पर पहुंची और मृत कौओं का पोस्टमार्टम कराया गया है।

संयुक्त निदेशक ने बताया कि मृत कौओं के नमूने जांच के लिए भोपाल स्थित हाइसिक्योरिटी बर्ड लैब में भेजे गए हैं। जहां मृत्यु के स्पष्ट कारणों का पता लग पाएगा। दानोदिया ने बताया कि संक्रमण से यह रोग फैलता है। ऐसे में लोगों को चाहिए कि वे बाहरी या विदेशी पक्षियों को अपने आस-पास रहने नहीं दे और उन्हें उड़ा दे। जो पक्षी आस-पास हैं उनसे भी दूरी बनाए। पक्षियों को दूर से ही दाना डाला जाए। पक्षियों में किसी प्रकार का रोग या मृत्यु होने पर विभाग से सम्पर्क किया जाए।