जब बदरा निकले बिन बरसे, सावन मे लोग तरसे

Deoli News (लोकेश लक्षकार)। न सावन की फुहारे न कही बहता हुआ बारिश का पानी, सावन का महिने का अन्तिम सप्ताह शुरु हो चुका लेकिन इन्द्रदेव की कृपा अभी तक नही बरसी। किसानो के लिए भी चिन्ता बढती जा रही है वही उमड कर आने वाली काली घटायें जब बिन बरसे निकल जाती है तो लोगो मे मायूसी छा जाती है।

दिन भर पडने वाली उमस व गर्मी हर रोज उम्मीद जगाती है काली घटायें उमड कर भी आती है लेकिन जब हवाओ के झोंके उन्हे उडा कर ले जाती है तो ऐसा लगता है कोई अपना बिना बोले सामने से गुज़र गया।