देश की सेवा में तैनात सेना के जवान का पूरा परिवार बैठा टोंक जिला कलेक्ट्रेट पर धरने पर 

टोंक जिला कलेक्ट्रेट के नीचे धरने पर बैठे जवान के परिवार के लोग

Tonk News। देश की सेवा में तैनात सेना के जवान के परिवार को जहां अपनी ही जमीन के लिए पिछलें पांच सालों से अधिकारियों के चक्कर लगाने पड रहे तो वही सेना के जवान के परिवार की सुनवाई नही होने के बाद सेना के जवान का पूरा परिवार टोंक जिला कलेक्ट्रेट के नीचे धरने पर बैठ गया और परिवार का आरोप है कि राजस्व विभाग द्वारा पत्थर गडी के लिए आदेश देने के बावजूद भी पीपलू थाना पुलिस ना तो सुनवाई करती है और ना ही पुलिस जाप्ता देती है। लेकिन अब टोंक के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा ने सेना के जवान के परिवार से एक बार फिर पुलिस जाप्ता व सुरक्षा देने की बात कही है।

दरअसल टोंक जिलें के पीपलू के अलीमपुरा गांव का सीआरपीएफ में तैनात केदार नारायण चौधरी कश्मीर में रहकर देश की सेवा में लगा हुआ है तो उसका परिवार पुलिस व प्रशासन की बेरूखी से परेशान होकर आज टोंक जिला कलेक्ट्रेट की सीढियों के नीचे धरने पर बैठ गया। और सेना के जवान के परिवार का आरोप है कि उसके खाते की जमीन पर कुछ प्रभावशालियों लोगो ने कब्जा कर लिया।

जिसके सीमाज्ञान के लिए उसका परिवार पिछलें पांच सालों से जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों से गुहार लगा चुका है कि जमीन के सीमाज्ञान के लिए पुलिस सुरक्षा उपलब्ध करवाए लेकिन जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने सेना के जवान के परिवार की सुनवाई ही नही की। जिसके बाद आज सेना के जवान का पूरा परिवार टोंक जिला कलेक्ट्रेट पर आकर धरने पर बैठ गया।

सेना के जवान के परिवार के धरने पर बैठ जाने की सूचना पर कोतवाली थानाधिकारी किशनलाल मौके पर पहुंचे और समझाईश शुरू की। लेकिन सेना के जवान का परिवार नही माना। जब मामला पुलिस के उच्च अधिकारियों के पास पहुंचा तो टोंक के अतिरिक्त पुलिस विपिन शर्मा ने सेना के जवान के परिवार जन को बुलाया और पुलिस जाप्ता व सुरक्षा देने का वादा किया।