कोब्रा सांप के घुसने से लोगों के होश फाख्ता हुए 

Tonk News टोंक जिले में इन दिनों कोब्रा सांपों का बोल बोला नज़र आ रहा है और वे आये दिन किसी मकान,दुकान या फिर ऑफिस में घुस वहां लोगों के लिये ख़ौफ का कारण बने हुए हैं । यहां आज टोडारायसिंह उपखंड मुख्यालय के पुराने जयपुर चूंगी नाके के समीप एक आवासीय बस्ती स्थित एक मकान में कोब्रा सांप के घुस आने से वहां मौजूद लोगों के होश फाख्ता हो गये ।

ख़ास बात यह रही की लगभग साढ़े चार फीट लंबा यह कोब्रा सांप देखते ही देखते वॉशिंग मशीन के नीचे जा छिपा । मकान मालिक द्वारा इस मामले की सूचना दिये जाने के बाद टोडारायसिंह वन नाके से वनकर्मी मुकेश कुमार मौके पर पहुंचे लेकिन वे कोब्रा को आक्रामक मुद्रा में देख वे उसे किसी भी तरह रेस्क्यू नहीं कर पाये ।

वन विभाग द्वारा इस घटना की जानकारी जिला मुख्यालय स्थित वन्यजीव प्रेमी व सापों की प्रजातियों के अध्ययन में जुटे मनोज तिवारी को को दी गई जिस पर वे अपने साथी बंशीधर अग्रवाल के साथ टोडारायसिंह पहुंचे व वाशिंग मशीन के नीचे छिपकर बैठे कोब्रा सांप को कुछ ही मिनिट में कोब्रा को अपने स्नैक बैग में क़ैद कर लिया  बाद में पकड़े गये कोब्रा सांप को बीसलपुर कंज़र्वेशन रिज़र्व के वन क्षैत्र में छोड़ दिया गया ।

मकान मालिक राजवीर गुर्जर ने बताया कि उनके मकान में किराये से रहने वाली महिला सुशीला मीणा को यह कोब्रा सांप सबसे पहले बाथरूम के दरवाज़े पर लटकता नज़र आया और कुछ ही मिनिट बाद वॉशिंग मशीन के नीचे जा छिपा था और लगभग चार घंटे से अधिक देर तक वहीं डेरा डाले रहा ।

मनोज तिवारी ने बताया कि कोब्रा सांप विश्व 10सर्वाधिक ज़हरिली प्रजातियों में शामिल है ठसे में खेतों या फिर हरियाली वाले ईलाकों में सांप मेंढकों के शिकार के चक्कर में घरों के बाहर या फिर भीतर पहुंच जाते हैं और फिर शिकार को निगल वहीं कहीं छिप जाते हैं ।

तिवारी ने बताया की ठसे ईलाके में रहने वाले लोगों को सांपों से बचाव से सभी तरीके अपनाये जाने के अलावा अतिरिक्त सावधान बरतने की भी आवश्यकता है ।