साथ जिएंगे साथ मरेंगे और दोनों पति पत्नी चल दिए

Jodhpur news । एक पुरानी हिंदी फिल्म का गाना है साथ ही जिएंगे साथ मरेंगे हम कभी जुदा नहीं होंगे इस गाने के भाव का अर्थ यह है कि पति पत्नी कह रहे हैं कि हम साथ ही जिएंगे और मरेंगे भी साथी और हिंदू धर्म में शादी के वक्त भी पैरों के दौरान सात वचनों में एक वचन यह भी होता है कि साथ जिएंगे साथ मरेंगे ऐसा ही एक घटना अजमेर में हुई कि पति की मौत के 12 घंटे बाद ही पत्नी ने भी सांसे छोड़ दी और दोनों ही लोग कलाकार एक साथ चल दिए ।

साथ जिएंगे साथ मरेंगे और दोनों पति पत्नी चल दिए 1


लोक कलाकार छवरलाल पति की मौत के 12घंटे बाद ही पत्नी चित्रलेखा ने भी दम तोड़ा दिया*
लोक कलाकार छवरलाल गहलोत का बुधवार रात हुआ था निधन, ठीक 12 घंटे बाद छवरलाल की पत्नी चित्रलेखा का भी हुआ निधन हो गया । कोरोना संक्रमित होने के बाद दोनों का चल रहा था उपचार*
श्री पुष्कर पशु मेला में आयोजित आध्यत्मिक यात्रा, मेला शरू से लेकर सम्मापन तक अपनी टीम के साथ छवरलाल गहलोत कार्यक्रम देते थे।*

हेलो दंपति दोनों ही लोग कलाकार थे और इस राजस्थान की धरोहर के दोनों ही पति पत्नी साथ साथ कार्यक्रम अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देते थे।