सहायक पुलिस उपनिरीक्षक चौबीस हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

जवाहर सर्किल थाने का सहायक पुलिस उपनिरीक्षक चौबीस हजार रूपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Jaipur News। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की जयपुर टीम ने शनिवार देर रात को कार्रवाई करते हुए जवाहर सर्किल थाना पुलिस के एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) लक्ष्मण राम को 24 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। आरोपित सहायक पुलिस उपनिरीक्षक यह रिश्वत की राशि परिवादी के खिलाफ दायर एक केस के मामले में सेटलमेंट करवाने की एवज में मांगी गई थी।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुष्पेंद्र सिंह ने बताया कि परिवादी राजेश कुमार मीणा के खिलाफ जवाहर सर्किल थाने में जमीनी विवाद को लेकर एक मुकदमा दर्ज था। इस मामले को रफा-दफा करने और शिकायतकर्ता से सैटलमेंट करवाने की एवज में जांच अधिकारी सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई ) लक्ष्मण राम ने परिवादी राजेश कुमार से 50 हजार रुपये की रिश्वत मांगी। इसके तहत 15 हजार रुपये वह पहले तीन अलग-अलग किश्तों में भी ले चुका था। इसके बाद परिवादी ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो में सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई )के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई और जिसका सत्यापन करवाया गया और ट्रेप का आयोजन कर किया गया। बताया जा रहा है कि रिश्वत की राशि के लिए सहायक पुलिस उपनिरीक्षक ने परिवादी को थाने ही बुला लिया था, लेकिन भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम वहां पहले से ही ट्रेप के लिए तैनात थी। जैसे ही परिवादी ने रिश्वत दी तो भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने जवाहर सर्किल के सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) लक्ष्मण राम निवासी मारूति नगर सांगानेर जयपुर को 24 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीमों द्वारा आरोपित सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई)से पूछताछ सहित उसके आवास एवं अन्य ठिकानों की तलाशी की जा रही है।