RAS घूसकांड – दलाल भी गिरफ्तार,तत्कालीन एसपी भी शक के घेरे में

Jaipur News ।भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने राजस्थान में उपखंड स्तर के दो आर एस अधिकारियों को लाखों रुपए की कुछ लेने के मामले में की गई है पहले कार्यवाही है इस गुड घूस कांड से पढ़ते दर पढ़ते खुलने की संभावना है तो वही इस कांड में ऐसे भी के हत्थे चढ़े दलाल ने प्रारंभिक पूछताछ में दोसा के तत्कालीन एसपी के लिए भी रिश्वत लेने की बात स्वीकार की है इससे आशंका जताई जा रही है कि दोनों आर एस अधिकारियों के लिए घूसखोरी की राशि लेने वाला दलाल एसपी के लिए भी रिश्वत लेने का काम कर रहा था इससे अब एसीबी का जांच बिंदु एसपी की तरफ भी मुड़ सकता है।

RAS घूसकांड - दलाल भी गिरफ्तार,तत्कालीन एसपी भी शक के घेरे में 1

प्रारम्भिक जानकारी के अनुसार दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस हाईवे (Delhi-Mumbai Express Highway)से जुडी निर्माण कंपनी के ठेकेदार से बेरोकटोक वाहनों का परिवहन व निर्माण क्षेत्र से जुडी अन्य कथित शिकायतों के सम्बंध रिश्वत की मांग की गई थी। एसीबी ने दलाल नीरज मीणा को भी गिरफ्तार कर लिया है। प्रकरण में दौसा के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक मनीष अग्रवाल का नाम जुडना बताया जा रहा है। ऐसे में एसीबी के एडीजी एमएन दिनेश दौसा पहुंच गए हैं और दोनों उपखण्ड अधिकारियों व दलाल को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की जा रही है। इस कांड मे और भक कई टरंते खुलने की संभावनाएं है ।

एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी व एडीजी एमएन दिनेश द्वारा जारी किए गए संयुक्त बयान में पूरे प्रकरण का खुलासा किया गया है। अधिकारियों ने बताया कि सडक़ निर्माण का काम करने वाली एक कंपनी से बांदीकुई उपखण्ड अधिकारी पिंकी मीणा ने 10 लाख व दौसा एसडीएम पुष्कर मित्तल ने 5 लाख रुपये की घूस मांगी। ऐसे में कंपनी पदाधिकारी कई बार समझाते रहे कि वे घूस देने की स्थिति में नहीं है। इस पर अफसरों का कहना था कि अगर खर्चा करोगे तो काम शुरू होने से पेमेंट बनने तक किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी। अगर ऐसा नहीं करते हो तो भारी नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

ऐसे में पीड़ित ने एसीबी कार्यालय पहुंचकर सूचना दी तो एसीबी ने बुधवार दोपहर दोनों अधिकारियों को रिश्वत लेते हुए ट्रेप कर लिया। एसीबी को मिली जानकारी के अनुसार बांदीकुई व दौसा एसडीएम काफी समय से निर्माण ठेकेदार के काम में अड़चन लगा उसे रुपये देने के लिए मजबूर कर रहे थे। एसीबी की कार्रवाई के बाद से ही जिले के अफसरों में हडकंप मचा हुआ है। वहीं पिछले दिनों दौसा एसडीएम पुष्कर मित्तल के खिलाफ नगर परिषद के कई पदाधिकारियों ने भ्रष्टाचार की शिकायतें की थीं। दोनों से लगातार पूछताछ की जा रही है।