आर्थिक तंगी से परेशान पति ने उठाया यह खौफनाक कदम , दिल दहल उठा

murders knife

Jaipur News । वैशाली नगर थाना इलाके में गुरुवार को आर्थिक तंगी से परेशान होकर एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और दो बच्चों का गला रेत कर हत्या कर दी और फिर खुद फांसी का फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर थाना पुलिस समेत आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली। प्रारम्भिक जांच पडताल में सामने आया कि मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें आर्थिक तंगी और कर्जे की बात सामने आ रही है। फिलहाल पुलिस ने चारो शवों को एसएसएम अस्पताल की मुर्दाघर के रखवाया दिया गया है। परिजनों के आने के बाद ही उनका पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

वहीं सुसाइड नोट के आधार पर मामले की जांच पडताल की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर ( पश्चिम ) प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि वैशाली नगर थाना इलाके में स्थित बुनकर कॉलोनी में रहने वाले मृतक गिर्राज राणा (28) जो मूलत सवाई माधोपुर का रहने वाला था। जो करीब दो साल से जयपुर में किराए पर रह कर सब्जी का ठेला लगाता था। प्रारम्भिक जांच में सामने आया कि मृतक गिर्राज ने पहले पत्नी शिमला (25), दो साल की बेटा कानू और पांच साल की बेटी अनुष्का की गला रेत हत्या की। जिसके बाद खुद फांसी के फंदे पर लटक गया।
सहायक पुलिस आयुक्त वैशाली नगर रायसिंह बेनीवाल ने बताया कि मृतकों के कमरे के आगे पशुओं का एक बड़ा बना हुआ है।

जहां रोज की तरह मकान मालकिन पशुओं को चारा डालने आई थी। दोपहर 12 बजे जब मालकिन आई तो मृतक के कमरे का दरवाजा बंद मिला। जहां आमतौर पर रोज बच्चे खेलते रहते थे, वो कमरा बंद देख मालकिन को शक होने पर उसने तुरंत अपने पति को इसकी जानकारी दी। इसके साथ ही आसपास के लोगों को भी मौके पर बुला लिया। काफी देर तक दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब नहीं खुला तो लोगों ने पीछे की खिड़की से झांक कर देखा तो गिर्राज लटका हुआ दिखाई दिया। जिसके बाद कमरे का दरवाजा तोड़ कर अन्दर जाकर देखा तो उसकी पत्नी शिमला और दोनों बच्चे जमीन पर लहूलुहान पड़े थे और गिरिराज फंदे पर लटा था।

थानाधिकारी अनिल जैमन ने बताया कि बुनकर काॅलोनी के एक मकान में चार शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस के तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। इसके बाद शव को फंदे से नीचे उतारा कर एफएसएल टीम की मदद से साक्ष्य जुटाए है।

जानकारी में सामने आया कि मृतक ने कुछ माह पहले गाड़ी फाइनेंस पर ली थी। वहीं कमरे में मौके पर सुसाइड नोट मिला है। जिसमें एक व्यक्ति का नाम भी लिखा है। वो ब्याज माफिया है या नहीं इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। जिसमें कर्जे से परेशान होकर गिर्राज राणा ने पत्नी व दोनों बच्चों की हत्या की, जिसके बाद खुद ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। पुलिस ने एम्बूलेंस की मदद से चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए एमएमएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया दिया गया है जिनकी परिजनों की मौजूदगी में पोस्टमार्टम कर उनके हवाले कर दिया जाएगा।