सोनिया गांधी की ‘रसोई’ राजस्थान की कांग्रेस सरकार से चलती है- डॉ. पूनियां

Jaipur News। जयपुर देहात उत्तर के कार्यकर्ताओं द्वारा नवनियुक्त जिलाध्यक्ष जितेन्द्र शर्मा को जिलाध्यक्ष बनने पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां का अभिनंदन कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यकर्ताओं ने डॉ. सतीश पूनियां, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक रामलाल शर्मा, नवनियुक्त जिलाध्यक्ष जितेन्द्र शर्मा, पूर्व मंत्री एवं विधायक वासुदेव देवनानी का माला एवं साफा पहनाकर स्वागत किया। 

इस दौरान कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए डॉ. पूनियां ने कहा कि लगभग 2.41 करोड़ मतदाताओं वाले 21 जिला परिषदों में हुए चुनावों में से 14 में भाजपा का बोर्ड बना, ये राजस्थान के इतिहास में पहली बार है कि विपक्ष में रहते हुए पंचायतीराज चुनाव में भाजपा ने इतनी बड़ी जीत दर्ज की है। कांग्रेस सरकार के कुशासन से परेशान जनता ने जिला परिषद के चुनावों में कांग्रेस सरकार को नकार दिया। 

पूनियां ने कहा कि 50 नगर पालिका के चुनावों में 32 को निर्दलीयों को बढ़त मिली, जब गहलोत की इतनी ही लोकप्रियता थी तो फिर कांग्रेस को इन चुनावों में बढ़त क्यों नहीं मिली। 14 लाख मतदाताओं के इन चुनावों में भाजपा का कांग्रेस से वोटों का अंतर मात्र 2888 था। मेरा यह सौभाग्य है कि मुझे काम करने के दौरान एक अच्छी टीम के साथ-साथ अच्छे कार्यकर्ताओं का साथ एवं सहयोग मिला, हर संघर्ष एवं हर रात के बाद एक सुनहरी सुबह होती है, इसकी शुरूआत हम लोग जयपुर देहात उत्तर से शुरुआत करेंगे। उन्होंने कहा कि आज हम सभी कार्यकर्ता यह प्रण लें कि आगामी पंचायतीराज चुनावों में जीत से कम कुछ भी स्वीकार नहीं हो इसलिए आपस में अपनी पसंद-नापसंद, जाति-बिरादरी इन सबको अलग छोड़कर एक ही लक्ष्य हो नेता और नेतृत्व के नाम पर नरेन्द्र मोदी जी व उम्मीदवार के नाम पर कमल का फूल, हम सब लोग मिलजुलकर चुनाव लड़ेंगे तो दुनिया की कोई ताकत हमें जीतने से रोक नहीं सकती।

पूनियां ने कहा कि कांग्रेस की साढे़ तीन प्रदेशों में ही सरकार है और जो राशन-पानी बचा है वो इसका राजस्थान में है, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी की रसोई राजस्थान की कांग्रेस पार्टी की सरकार से चलती है। कार्यकर्ताओं से आव्हान करते हुए कहा कि राजस्थान में एक बार भाजपा और एक बार कांग्रेस की सरकार बनने की जो धारणा है उसकों हम बंद करेंगे। कड़ा परिश्रम कर प्रदेश में हर बार भाजपा की सरकार बनाएंगे। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसान सम्पूर्ण कर्जामाफी का इंतजार कर रहे हैं, युवा भर्तियों का और संविदाकर्मी नियमितीकरण का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन सरकार इन विषयों के समाधान की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा पर मुख्यमंत्री गहलोत सरकार गिराने की साजिश के झूठे आरोप लगाते हैं, लेकिन हकीकत ये है कि इनकी सरकार के अन्दर विग्रह और झगड़ा है, जिसके बोझ से ये सरकार खुद ही गिर जायेगी।