आश्रम में मालिश के बहाने संत ने किया नेपाली मूल की महिला उसकी बेटी से रेप

Jaipur news। देश में आसाराम बापू राम रहीम सहित करीब एक दर्जन संत महात्माओं पर अपने आश्रम में महिलाओं और युवतियों के साथ यौन शोषण करने के आरोप लगने के साथ ही उनकी गिरफ्तारी आ और सलाखों के पीछे जाने की घटनाएं घटित हो चुकी है और यह सिलसिला अभी भी जारी है ऐसा ही एक मामला राजस्थान की राजधानी जयपुर में सामने आया है जहां नेपाली मूल की एक महिला और उसकी बेटी के साथ एक संत द्वारा आश्रम में काम देने और मालिश करने के बहाने बुलाकर यौन शोषण किया इस संबंध में पीड़िता द्वारा मामला दर्ज कराया गया है ।

थानाधिकारी राम​किशन विश्नोई ने बताया कि मूलत: नेपाल हाल झोटवाड़ा निवासी 35 वर्षीय महिला ने मामला दर्ज करवाया है कि जुलाई 2019 में कदम की डूंगरी स्थित आश्रम के संत सीताराम महाराज ने आश्रम में साफ़-सफाई, बाई का काम देने की कहकर रख लिया। पीड़िता अपनी बेटी के साथ वहां रहने लगी। पीड़िता का आरोप है कि इसके बाद संत की नियत ख़राब हो गई और वह अपनी कुटिया में बुलाकर मालिश के बहाने यौनशोषण करने लगा। इसके कुछ समय बाद बाबा उसकी 14 साल की नाबालिग बिटिया को भी वह मालिश के लिए बुलाने लगा और उसके साथ भी यौनशोषण करने लगा। जब पीड़िता तंग हो गई तो वहां से आ गई और इस्तगासे के जरिए थाने में मुकदमा दर्ज कराया। मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

हालांकि इस मामले में कितनी सच्चाई है यह तो पुलिस की जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा लेकिन संतों पर ऐसे आरोप लगने से संत महात्मा का समाज बदनाम होता जा रहा है

ad