पंकज कुमार सिंह ने की डीजीपी की कुर्सी पर दावेदारी, फंसा पेच

Jaipur news । राजस्थान मे राज्य के पुलिस महानिदेशक की कुर्सी पर वरिष्ठ आईपीएस पकंज कुमार सिंह द्वारा आज दावेदारी पेश करने के साथ ही डीजीपी की कुर्सी को लेकर अब एक बार फिर से फंस गया है तो वही बीजेपी की दौड़ में मुख्यमंत्री के चाहे थे और निकटतम आईपीएस भगवान लाल सोनी भी एक पायदान नीचे खिसक गए है । अब बीजेपी की खुशी के लिए एक बार फिर नया पैनल बनाकर भेजा जाएगा।

सीमा सुरक्षा बल में प्रतिनियुक्ति की वजह से अब तक डीजीपी की दौड़ से बाहर माने जा रहे पंकज कुमार सिंह ने अपनी दावेदारी पेश कर दी है। वरिष्ठताक्रम में पंकज कुमार सिह चौथे पायदान पर हैं। वरिष्ठता के आधार पर दूसरे नम्बर पर मौजूद अक्षय मिश्रा लम्बे समय से राज्य से बाहर प्रतिनियुक्ति पर हैं।

ऐसे में वह डीजीपी की दौड़ में भी शामिल नहीं हैं। अब तकनीकी आधार पर पंकज कुमार सिंह वरीयता में तीसरे क्रम में सबसे वरिष्ठ अधिकारी है। पंकज कुमार सिंह की दावेदारी सामने आते ही राज्य सरकार की योग्यता सूची भी गड़बड़ा गई है। अब पंकज कुमार सिंह के दावा पेश करने के बाद 11 अफसरों की नई योग्यता सूची बनाई है। यह सूची संघ लोक सेवा आयोग को भेजी जाएगी। पंकज कुमार सिंह के डीजीपी की दौड़ में आते ही बीएल सोनी सर्वाधिक प्रभावित होते नजर आ रहे हैं।

हालांकि मौजूदा सरकार में सोनी की छवि बेहतर है। वरिष्ठता के आधार पर सोनी पांचवें क्रम पर हैं। आयोग सिर्फ तीन अफसरों का पैनल भेजेगा। ऐसे में वरिष्ठता के आधार पर राजीव दासोत, एमएल लाठर और पंकज के नाम इस पैनल में शामिल होने की उम्मीद है।

सिह और सोनी भीलवाड़ा के एस पी रहे है

विदित है की पकंज कुमार सिंह भीलवाड़ा के एस पी रहे है और एकबेहद इमानदार आईपीएस की छवि है । वही बी एल सोनी भी भीलवाड़ा के एस पी रहे है तथा उनकी भी छवि इमानदार आईपीएस अधिकारी की है ।