Jaipur / एक फरवरी से इलाज बंद करने का अस्पतालों ने नहीं दिया नोटिस: डॉ. रघु शर्मा

Jaipur News – राजस्थान में आयुष्मान भारत महात्मा गांधी स्वास्थ्य बीमा योजना (Ayushman Bharat Mahatma Gandhi Health Insurance Scheme) के तहत एक फरवरी से इलाज बंद करने का प्रदेश के अस्पतालों ने अभी तक चिकित्सा विभाग को कोई नोटिस नहीं दिया है। योजना को जारी रखने के लिए विभाग और बीमा कम्पनियों के बीच वार्ता जारी है। इसके लिए चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Medical Minister Dr. Raghu Sharma) ने एक बयान जारी कर बताया कि प्रदेश में 791 निजी एवं 447 राजकीय सहित 1 हजार 238 चिकित्सालय इस योजना के तहत सूचीबद्ध है।

जनवरी के अंतिम सप्ताह में प्रतिदिन लगभग 3 हजार से अधिक क्लेम निजी अस्पतालों ने किए हैं। इसके लिए बीमा कंपनी ने भुगतान भी प्रारम्भ कर दिया गया है। पिछले सप्ताह लगभग 17 करोड़ रुपए का भुगतान इन चिकित्सालयों को किया गया है। बीमा कंपनी की ओर से प्रतिदिन 8 से 10 करोड़ रुपए का भुगतान नियमित किया जा रहा है।

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि निजी अस्पतालों की एसोसिएशन ने एक फरवरी से योजना में कार्य बंद करने की कोई सूचना विभाग को नहीं दी है। राजस्थान स्टेट हैल्थ एश्योरेंस एजेंसी की ओर से 13 दिसम्बर 2019 से टीपीए के माध्यम से क्लेम प्रोसेसिंग का कार्य किया जा रहा है। इस व्यवस्था में चिकित्सालयों का भुगतान शीघ्र ही कर दिया जाएगा।