तस्करों व नारकोटिक्स टीम में क्रॉस फायरिंग, सीने में लगी गोली, नारकोटिक्स अधीक्षक भी चोटिल 

Chittorgarh News। डोडाचूरा ले जा रहे तस्करों के खिलाफ चित्तौड़गढ़ जिले में कार्रवाई करने आई नारकोटिक्स की टीम व तस्करों के बीच सोमवार रात को क्रॉस फायरिंग हो गई। इस घटना में एक तस्कर के सीने में गोली लगी है तो पथराव में नारकोटिक्स का एक अधीक्षक भी घायल हुवा है। इन दोनों को उदयपुर रैफर करने कर दिया गया है। देर रात सूचना के बाद मंगलवाड़ थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची है।

जानकारी के अनुसार अधीक्षक मुकेश खत्री की सूचना पर केंद्रीय नारकोटिक्स ब्यूरो कोटा एवं चित्तौड़गढ़ के संयुक्त निवारक दल का गठन सहायक नारकोटिक्स आयुक्त विजय सिंह मीणा के नेतृत्व में किया गया।  गठित निवारक दल में राजेंद्र कुमार, मुकेश खत्री, संतोष कुमार पाठक, अधीक्षणगण पंकज कुमार, विपिन कुमार गुप्ता, आर के चौधरी, एसके मिश्रा, निरीक्षक गण मुकेश राठौर व विष्णु दास शामिल थे।
सूचना पर रात्रि 9 बजे करीब निवारक दल मंगलवाड़ थाने के गांव पदमपुरा से नारायण पुत्र शंकरलाल अहीर के कुएं में दबिश दी गई। इस दौरान तस्करों ने पत्थरबाजी एवं फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में निवारक दल ने भी क्रॉस फायरिंग की। दोनों तरफ़ से हो रही फायरिंग में एक गोली कार में बैठे एक तस्कर भजना राम निवासी तहसील भीनमाल जालौर के सीने में जा लगी। वहीं, दूसरी ओर पत्थरबाजी के कारण अधीक्षक मुकेश खत्री भी घायल हो गए।
बाकी दो तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले। दोनों को तुरंत उदयपुर चिकित्सालय ले जाया गया। निवारक दल ने मौके पर खड़ी दो गाड़ियों की तलाशी ली तो उसमें प्लास्टिक के कट्टे थे। प्लास्टिक के कट्टो में 63 किलोग्राम डोडाचूरा भरा हुआ पाया गया। घटना की जानकारी मिलते ही मंगलवाड़ थाना पुलिस मौके पर पहुँची। मंगलवाड़ थाने में मामला दर्ज करवा कर प्राप्त डोडाचूरा का पंचनामा बनवाकर चित्तौड़गढ़ कार्यालय रखवाया गया।