केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल पुत्र को कांग्रेस विधायक गोविंद की पत्नि ने हराया

Photo - Facebook Post

Bikaner News। केंद्रीय मंत्री व राजस्थान से बीकानेर सांसद अर्जुन राम मेघवाल के पुत्र रवि मेघवाल को पंचायत राज चुनाव में कड़ी हार झेलनी पड़ी है। इस हार से रवि मेघवाल का जिला प्रमुख बनने का सपना फिलहाल टूट ही गया है। इस हार से जहां कांग्रेस और केंद्रीय मंत्री अर्जुन विरोधी खेमा भी खासा खुश नजर आ रहा है।

मंगलवार को हुई मतगणना में जिले के खाजूवाला से विधायक गोविंद राम मेघवाल की पत्नि आशा देवी ने 2500 मतों के अंतर से केंद्रीय मंत्री पुत्र रवि को हराया है। इसके अलावा विधायक गोविंदराम के बेटे गौरव पंचायत का चुनाव, बेटी सरिता भी जिला परिषद का चुनाव जीती है। कुल मिलाकर विधायक गोविंद जिले में एक बड़े दलित नेता के तौर पर उभरते हुए सामने आये हैं। विधायक की बेटी सरिता मेघवाल बीते पांच साल में खाजूवाला की प्रधान भी रह चुकी है और जिला परिषद सदस्य बनकर अब वे जिला प्रमुख की मजबूत दावेदार मानी जा रही है।
बता दें कि सरिता मेघवाल शिक्षित व मुखर महिला नेता के रूप में मानी जाती है। ऐसे में अगर वे जिला प्रमुख बन जाती हैं तो आने वाले चुनावों में केंद्रीय मंत्री अर्जुन की मुश्किलें और बढ़ा सकती है। उधर केंद्रीय मंत्री अर्जुन विरोधी खेमे के लिए रवि की हार इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि अर्जुन के इर्द-गिर्द घूम रही बीकानेर बीजेपी के ‘वारिस’ के रूप में रविशेखर को प्रमोट किया जा रहा था। चर्चा है कि दो बार के विधायक विश्वनाथ मेघवाल को शक्तिहीन करना भी अर्जुन पुत्र की शिकस्त का एक बड़ा कारण है। वहीं विधायक गोविंद मेघवाल ने जिले के बड़े दलित नेता का तमगा पा लिया है।