यूआईटी में कमीशन के बंदरबांट तीनों अभियंताओं के यहां सर्च खुल सकता बड़ा राज , कुछ कार्मिक और अधिकारी भी राडार पर

bhilwara UIT

Bhilwara News ।  भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो जयपुर और टोंक की टीमों ने मिलकर आज लंबे समय बाद नगर विकास न्यास यूआईटी मैं चल रहा है कमीशन के खेल का राज खोलते हुए इस कमीशन के खेल के खिलाड़ियों यूआईटी के 3 अभियंताओ को रिश्वत की राशि सहित सवेरे सवेरे उनके आवास से धर दबोचा । एसीबी ने नगर विकास न्यास के एसई, एक्सईएन तथा एईएन को बिल पास करने की एवज में 1 लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

एसीबी के डीजी बीएल सोनी और एडीजी दिनेश एमएन के निर्देशन में पूरी कार्रवाई जयपुर एसीबी के एडिशनल एसपी नरोत्तम वर्मा के सहयोग से टोंक एसीबी के एडिशनल एसपी विजय सिंह मीना ने अंजाम दिया। एसीबी में परिवादी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि यूआईटी के एसई रामेश्वर शर्मा, एक्सईएन संतोष शारदा और एईएन ब्रह्मलाल शर्मा उसका बिल पास करने की एवज में रिश्वत मांग रहे है। कुछ राशि कुछ समय पूर्व तीनों ले चुके हैं। इस पर परिवादी की शिकायत का सत्यापन करवा जयपुर एसीबी की टीम ने इस कार्रवाई को गुरुवार सवेरे अंजाम दिया।

जानकारी के अनुसार एसई रामेश्वर शर्मा व एक्सईएन संतोष शारदा द्वारा कुल 75 हजार की रिश्वत ली गई। वहीं एईएन ब्रह्मलाल शर्मा द्वारा 25 हजार की रिश्वत ली गई। तीनों आरोपितों द्वारा बिल पास करने की एवज में रिश्वत की मांग की गई थी। इसमें से कुछ रुपए पहले ही लिए जा चुके थे। टीम ने तीनी अभियंताओ की संपत्ति का आकलंन करने के लिए सर्च अभियान भी किया लेकिन खबर लिखे जाने थक तीनो अधिकारियों की संपत्ति का खुलासा रिपोर्ट नही मिल पाई थी । एसीबी टीम ने तीनों घूसखोर अधिकारियो भी से पूछताछ है । सच में तीनों अभियंताओं के यहां संपत्तियों का बड़ा राज खुल सकता है साथी यह कमीशन का खेल कहां तक चल रहा था और किस-किस तक कमीशन पहुंच रहा था इसका भी खुलासा हो सकता है और इस कार्यवाही के बाद कई और कार्मिक व अधिकारी राडार पर आ सकते हैं