जहाजपुर:इंदिरा रसोई का उद्घाटन बना चर्चा का विषय, विधायक को किया नजरअंदाज

जहाजपुर(आज़ाद नेब) राजस्थान सरकार ने ‘कोई भूखा ना सोये‘ के संकल्प को साकार करने की दिशा में एक और कदम बढाते आज नगर के पालिका कॉन्प्लेक्स में इन्दिरा रसोई योजना शुरूआत की। जिसका शुभारंभ उपखंड अधिकारी उम्मेद सिंह राजावत ने फीता काटकर की। सरकार की इस योजना के शुभारंभ पर स्थानीय विधायक गोपीचंद मीणा को पालिका द्वारा निमंत्रण नहीं देने पर चर्चा का विषय बना रहा।

शुभारंभ के मौके पर पालिका अध्यक्ष विवेक मीणा ने कहा कि मुख्यमंत्री की भावना के अनुरूप राज्य सरकार द्वारा कोई भी भूखा न सोये के संकल्प के साथ आज से इंदिरा रसोई योजना प्रारंभ की जा रही है। इंदिरा रसोई में 8 रूपये में सभी के लिये शुद्व, ताजा एवं पौष्टिक भोजन उपलब्ध होगा। प्रति थाली 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जी, 250 ग्राम चपाती एवं आचार उपलब्ध करवाया जायेगा।

उपखंड अधिकारी उम्मेदसिंह राजावत ने बताया कि दोपहर का भोजन सामान्यतः सुबह 8.30 बजे से मध्यान्ह 1 बजे तक एवं रात्रिकालीन भोजन शाम 5 बजे से 8 बजे तक उपलब्ध करवाया जायेगा। भोजन करने के लिये किसी भी प्रकार के दस्तावेज की कोई आवश्यकता नहीं है। कोई भी व्यक्ति सम्मान पूर्वक 8 रुपये में भोजन की थाली प्राप्त कर सकता है।

कोरोना से बचाव के लिये किये गये आवश्यक प्रावधान

उपखंड अधिकारी उम्मेदसिंह राजावत ने बताया कि कोरोना महामारी से बचाव के लिये रसोईयों पर सभी आवश्यक प्रावधान किये गये है। भोजन ग्रहण करने वालो से सोशल डिस्टेसिंग, मास्क लगाने एवं केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा कोरोना महामारी के सम्बन्ध में जारी दिशा-निर्देशों की पालना आवश्यक रूप से करवाई जायेगी। सभी रसोईयों को प्रतिदिन सैनेटाईज किया जायेगा। रसोई में कार्यरत कार्मिकों को कोरोना महामारी के सम्बन्ध में जारी सभी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। समय-समय पर इनके स्वास्थ्य की भी जांच की जायेगी।
आम आदमी भी सहभागी हो सकते है
इस योजना में कोई भी व्यक्ति, संस्था, कॉर्पोरेट, फर्म आदि आर्थिक सहयोग भी कर सकती है। दान सहयोग मुख्यमंत्री सहायता कोष अथवा रजिस्ट्रेट जिला स्तरीय इंदिरा रसोई के बैंक खाते में ही किया जा सकता है। कोई भी व्यक्ति अपने परिजनों की वर्षगांठ, जन्मदिवस या अन्य किसी अवसर पर दोपहर रात्रि या दोनों समय के भोजन को प्रायोजित कर सकता है।
इस मौके पर मनोनीत पार्षद अनिल उपाध्याय, बाबूलाल खटीक, पार्षद समता रेगर, शब्बीर मिंया, रमेश गुर्जर, संत कुमार शर्मा मौजूद रहे।