भीलवाड़ा मे मसाला फैक्ट्री पर छापा बड़ी मात्रा में रसायन युक्त मिला मसाला 3275 किलोग्राम मसाले जप्त

भीलवाड़ा में शुद्ध के लिए युद्ध अभियान की बड़ी कार्रवाई, 32 क्विंटल केमीकल युक्त मसाले जब्त

Bhilwara news । दीपावली त्यौंहार पर जिले में राज्य सरकार के निर्देश पर चलाये जा रहे शुद्ध के लिये युद्ध अभियान के तहत पहले दिन सोमवार को बडी कार्यवाही करते हुए मिलावटी मसाले तैयार करने वाली फर्म के विरुद्ध कार्यवाही की गई। जिला कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते के निर्देशन में गठित जांच दल ने कार्यवाही करते हुए संदिग्ध मिलावटी मसालों को जब्त किया एवं फर्म के मालिक के विरुद्ध पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई।


            जिला कलक्टर के मार्गदर्शन में योजनाबद्ध तरीके से उपखण्ड अधिकारी रिया केजरीवाल(आईएएस) सीएमएचओ डाॅ. मुश्ताक खान, तहसीलदार   दिनेश कुमार, रसद कार्यालय के प्रवर्तन अधिकारी ज्ञानचंद, बाट व माप निरीक्षक महेन्द्र सिंह, खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवेन्द्र सिंह राणावत, भीलवाडा डेयरी के रामस्वरुप पालीवाल एवं पुलिस उप अधीक्षक रामचन्द्र चैधरी की टीम ने दोपहर में गांधीनगर स्थित मिर्च मण्डी में दबिश दी। फर्म मालिक दिनेश कुमार जागेटिया के समक्ष जांच दल ने निरीक्षण किया तो प्रथम तल पर विभिन्न प्रकार के रसायन मिलकर तैयार किये गये मिलावटी मसाले जैसे मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर व धनिया पाउडर का स्टाॅक मिला। मौके पर पाये गये 54 कट्टों में 2400 किलोग्राम मिर्च, 12 कट्टों में  600  िकलोग्राम हल्दी पाउडर व 6 कट्टों में 275 किलोग्राम धनिया पाउडर मिला। मोबाईल लेब से जांच करने पर अधिकांश मसालों में रसायन मिला हुआ पाया गया जो कि आमजन के स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है।  मौके पर ही मिलावटी मसाले बनाने हेतु विभिन्न रसायन जैसे मिर्च पाउडर के लिये पालिसील रेड 5 किलो व आॅयल रेड 9 किलो 400 ग्राम, हल्दी पाउडर के लिये आॅयल ओरेंज एचसी 15 किलो, आॅयल ओरेंज 21 किलो 400 ग्राम, यलो कलर 800 ग्राम व केमीकल की खाली पीपीयां मिली।      


           जिले में अभियान के संयोजक एन.के. राजोरा ने बताया कि प्रारंभिक जांच में असुरक्षित पाये गये मसालों की अग्रिम जांच हेतु नमूने लिये गये एवं प्रतापनगर थाने में फर्म के मालिक दिनेश कुमार जागेटिया के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाई गई।  मौके पर पाये गये 3275 किलोग्राम संदिग्ध मसालों को जब्त कर सीलबंद कर दिया गया।  इस कार्यवाही के अतिरिक्त सोमवार को अभियान के तहत खाद्य सामग्री के कुल 6 नमूने लिये गये जिन्हें जांच हेतु प्रयोगशाला में भिजवाया गया है।