भीलवाड़ा में फर्जी दस्तावेजों से जाति प्रमाण-पत्र बनाना का राजफाश ,ई मित्र संचालक संचालक के विरुद्ध मामला दर्ज

Bhilwara news । कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र बनाने वालों के विरुद्ध बनाने वालों के विरुद्ध उपखंड अधिकारी रिया केजरीवाल (आईएएस) के निर्देशन में चल रही कार्रवाई के दौरान एक ई-मित्र संचालक के बड़े फर्जीवाड़े का पर्दाफाश किया गया है। ई-मित्र संचालक के विरुद्ध आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत सुभाष नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है।


उपखंड अधिकारी रिया केजरीवाल(आईएएस) ने बताया कि कई दिनों से कूट रचित दस्तावेजों के माध्यम से प्रमाण पत्र बनाने की शिकायतें प्राप्त हो रही थी। माणिक्य लाल वर्मा राजकीय महाविद्यालय के सह आचार्य पयोद जोशी एवं मनीषा उदावत द्वारा सत्यापित दस्तावेजों के आधार पर ई-मित्र कियोस्क अमित ई सर्विस के भेरूलाल टेलर ने कई जाति प्रमाण पत्र पत्र बनाए हैं।

सत्यापन करने पर पयोद जोशी और उदावत ने उपखण्ड अधिकारी केजरीवाल को बताया कि दस्तावेजों पर उनके द्वारा साइन नहीं किए गए हैं गए हैं। सत्यापन के दौरान यह भी पाया गया कि इसी प्रकार कई अन्य व्यक्तियों के फर्जी हस्ताक्षरों के आधार पर ई-मित्र संचालक ने 40 लोगों को फर्जी प्रमाण पत्र जारी किए हैं। इस पर पयोद जोशी ने उनके जाली हस्ताक्षर कर प्रमाण पत्र बनाने पर ई-मित्र संचालक के विरुद्ध सुभाष नगर पुलिस थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

पुलिस ने आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 471 के तहत प्रकरण दर्ज करते हुए जांच प्रारंभ कर दी है। थाना अधिकारी पुष्पा कसोटिया प्रकरण की जांच कर रही है। उपखण्ड अधिकारी रिया केजरीवाल ने बताया कि सत्यापन का कार्य जारी है और कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर प्रमाण पत्र जारी करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी।