सहायक निदेशक शरद शर्मा की मौत पर ब्राह्मण समाज के बाद अब समाज कल्याण अधिकारी संघ ने भी छिड़ी जंग

Bhilwara news । समाज कल्याण के सहायक निदेशक शरद शर्मा की 2 दिन पूर्व हुई मौत के मामले को लेकर अब विवाद गहराता जा रहा है जहां शर्मा की मौत को लेकर ब्राह्मण समाज ने आंदोलन की चेतावनी देते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है वही अब समाज कल्याण अधिकारी संघ जयपुर में भी इस जंग में कूदते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर निष्पक्ष जांच की मांग की है

समाज कल्याण अधिकारी संघ जयपुर के प्रदेशाध्यक्ष एसएल पहाड़ियां में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत को लिखे पत्र में बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग भीलवाड़ा के सहायक निदेशक शरद शर्मा की 2 सितंबर को हृदयाघात से निधन हो गया उनको मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद भीलवाड़ा द्वारा एक नोटिस दिया गया जिसके कारण शर्मा काफी परेशान और सदमे थे जो उनकी मौत का कारण बना ।

पत्र में पहाड़िया ने बताया कि शर्मा को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के आवेदन पत्रों की समय पर जांच एवं स्वीकृति नहीं होने से ऑटो स्वीकृति हो जाने के लिए उत्तरदायी मानते हुए नोटिस जारी किया गया जबकि सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना की जांच स्वीकृति एवं भुगतान की कार्यवाही मे विभागीय अधिकारियों की कोई भूमिका नहीं होती है शर्मा द्वारा उक्त तथ्य से मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद भीलवाड़ा को अवगत भी करवा दिया गया किंतु उन्होंने हठधर्मिता के कारण सभी वास्तविक तथ्यों को नजरअंदाज कर दिया पहाड़िया ने पत्र में उल्लेख किया कि शर्मा विभाग के सर्वश्रेष्ठ अधिकारी के रूप में पहचान थी और उन्होंने कभी भीलवाड़ा जिले की रैंक प्रथम 5 से नीचे नहीं आने दी विभाग के सर्वोत्कृष्ट अधिकारी के सदमे से निधन हो जाने पर समस्त विभाग के अधिकारियों में रोष व्याप्त है पहाड़े ने मुख्यमंत्री से उक्त प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराई जा कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग की

Slider