भीलवाड़ा मे कोरोना का ताडंव 30 दिन मे 364 पाॅजिटिव, रोज 12 संक्रमित, प्रशासन को किसका इंतजार

Bhilwara News । वस्त्र नगरी भीलवाड़ा अन लाॅकडाउन 2 के दौरान पिछले 30 दिनो मे कोरोना पाॅजिटिव रोगियो की संख्या एकदम से बढने लगी है औसत रोजाना 12 रोगी कोरोना पाॅजिटिव आ रहे है । लेकिन पिछले 7 दिनो मे संक्रमित रोगियो की संख्या मे जबरदस्त इजाफा हुआ है और 189 रोगी पाॅजिटिव आए यानी की रोजाना 27 रोगी ।

भीलवाड़ा मे कोरोना का ताडंव 30 दिन मे 364 पाॅजिटिव, रोज 12 संक्रमित, प्रशासन को किसका इंतजार 1

आकंडो को देखा जाए तो इस माह 1 जुलाई से लेकर 23 जुलाई तक 175 पाॅजिटिव रोगी आए और 24 से 30 जुलाई तक 189 रोगी आ गए है ।

भीलवाड़ा मे कोरोना का ताडंव 30 दिन मे 364 पाॅजिटिव, रोज 12 संक्रमित, प्रशासन को किसका इंतजार 2

सबसे बडी बात देखने मे यह आई की ऐमजन जहां कोरोना को लेकर बिलकुल गंभीर नही है । सरकार और प्रशासन द्वारा बार-बार चेतावनी देने अपील करने की सोशल डिस्टेसिंग रखे , माॅस्क पहने , साफ सफाई का ध्यान रखे के बाद भी आमजन की लापरवाही बनो है घातक और यही कारण है की अब कोरोना वायरस संक्रमण कम्यूनिटी स्प्रेड का रूप ले चुका है।

भीलवाड़ा मे कोरोना का ताडंव 30 दिन मे 364 पाॅजिटिव, रोज 12 संक्रमित, प्रशासन को किसका इंतजार 3

प्रशासन को अब भी लाॅकडाउन के लिए बडे पैमाने पर संक्रमण फैलने का इंतजार

भीलवाड़ा शहर सहित जिला भर मे 1 जुलाई से 23 जुलाई तक कुल 175 पाॅजिटिव रोगी आए और 24 से 30 जुलाई तक 189 रोगी । पिछले 30 दिनो मे कुल 364 पाॅजिटिव रोगी आए है यह आकंडे चौकाने वाले है लेकिन इन आकंडो के बाद भी जिला प्रशासन को अब भी लाॅकडाउन करने के लिए बडे पैमाने पर संक्रमण फैलने का इंतजार है या संक्रमण से हा-हाकार मचने का यह तो पता नही लेकिन इतना जरेर लगता है की यदि संक्रमण फैला तो स्थितियां संभालने से भी नही काबू आएगी ।

6 पाॅजिटिव आने पर 55 दिन लाॅकडाउन और 364 पर कुछ नही

शहर मे अब प्रशासन की कार्य प्रणाली और मंशा को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू होने लगा आमजन अब प्रशासन को कोस रहा है की जब शहर मे केवल 6 पाॅजिटिव रोगी आए तब तो 55 दिन पूर्ण लाॅकडाउन लगा दिया और अब 364 पाॅजिटिव आ गए है तो लाॅकडाउन नही क्यो ? और अब थो सरकार ने भी कलेक्टर को पाॅवर दे दिए है लाॅकडाउन के तो फिर किसका इंतजार है ? रोजगार की बात है तो कौनसा रोजगार चल रहा है जो पाॅजिटिव आ रहा है उससे पूछो की उसकी क्या हालत है ।