राशन विक्रेता संघ ने दिया ज्ञापन

भरतपुर /राजेन्द्र शर्मा जती।   राजस्थान राज्य अधिकृत राशन विक्रेता (नियोजक) संघ के तत्वावधान में जिलाध्यक्ष शैलेष कौशिक के नेतृत्व में जिले के राशन डीलरों ने जिला रसद अधिकारी को ज्ञापन देकर पूरे जिले में डीलरों को आ रही समस्याओं से अवगत कराया।

ज्ञापन में डीलरों ने मांग की कि वर्तमान में विभाग द्वारा पिछले 5-7 सालों से राशन की दुकानों पर काम आ रहे इलैक्ट््रोनिक कांटे के दस्तावेज मांगे गये हैं जिनको उपलब्ध कराना व्यवहारिक एवं सभ्मव नहीं है बाकीविभाग चाहे तो सभी डीलरों के कांटों की दुकानों पर भौतिक सत्यापन कर सकता है जिसमें सभी डीलर पूर्ण रूप से सहयोग करने के लिए तैयार हैं।

साथ ही डीलरों ने मांग की कि सितम्बर माह 2020 से नवम्बर तक का गेहूॅ का वितरण का कमीशन आंगनबाडी के गेहूॅ, चावल, दाल वितरण कमीशन एवं कोरोना काल में
किये गये प्रवासी एवं अप्रवासी गेहूॅ एवं चना वितरण का कमीशन अभी तक डीलरों के खातों में नहीं आया है जवकि वर्तमान में डीलरों की आय इतनी नहीं है कि वह अपना परिवार का जीवन यापन बिना कमीशन के कर सकें। इसलिए इस कमीशन को शीघ्र ही डीलरों के खाते में डलवाया जावे। ज्ञापन में मांग की गई कि खाद्य निगम द्वारा अधिकृत ठेकेदार द्वारा जो डीलरों को गेहूॅ दिया जा रहा है उसकी न तो नाप पूरी आ रही है और न ही वारदाना के वजन का हिसाब
सही तरीके से किया जा रहा है इसके साथ ही कई बार डीलरों को गीला एवं सडा गेहूॅ दुकानों पर पहुॅचाया जाता है जिससे आमजन एवं उपभोक्ताओं को उस गेहूॅ को लेने में परेशानी होती है और दुकानों पर झगडे की स्थिति उत्पन्न
होती है।

इसलिए गेहूॅ की सही माप एवं सही क्वालिटी खाद्य निगम के ठेकेदारद्वारा डीलरों को उपलब्ध कराई जावे। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्र के डीलरों द्वारा भी ज्ञापन सौंपा गया। डीलरों ने यह भी मांग की है कि जिस पोस मशीन से राशन वितरण का कार्य किया जाता है ।