जहरीली शराब पीने से एक की मौत , 8 ने गंवाई अपनी रोशनी, भरतपुर अस्पताल में है भर्ती

जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने आरबीएम होस्पिटल पहुंचकर बीमारों की जानकारी ली

Bharatpur news /राजेन्द्र शर्मा जती। भरतपुर जिले के रूपवास थाना क्षेत्र के उत्तरप्रदेश से सटे चक सामरी गांव में मंगलवार रात जहरीली शराब पीने से सरपंच के भाई सहित दो लोगों की मौत हो गई। वहीं आठ लोगों की आंखों की रोशनी चली गई। गम्भीर हालत में सभी आठ जनों को भरतपुर के आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के मुताबिक सूचना मिलने पर थानाधिकारी जमील खान ने जाप्ते के साथ गांव में पहुंच हालात का जायजा लिया। प्रशिक्षु आईपीएस सुमित महेरना ने गांव से करीब 12 कार्टन हथकढ़ शराब जब्त की है। पुलिस ने बताया कि गांव में मंगलवार रात करीब एक दर्जन लोगों ने हथकढ़ शराब पी थी। सुबह होते-होते उनकी हालत बिगड़ गई।

 

उल्टी-दस्त के साथ उनका सिर चकराने लगा। इस पर उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हेंं भरतपुर रैफर कर दिया गया। इस थाना क्षेत्र के कई गांवों में कच्ची शराब बनाए जाने के अलावा उत्तरप्रदेश से भी भारी मात्रा में अवैध हथकढ़ शराब यहां लाई जाती है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी भी जानकारी के बाद अस्पताल पहुंचे। जिला कलक्टर नथमल डिडेल ने आरबीएम होस्पिटल पहुंचकर घायलों को जानकारी ली। उनका बेहतर उपचार करने के निर्देश पीएमओ को दिए है।

कलक्टर नथमल डिडेल ने बताया कि इस मामले में पांच लोग भर्ती है। उन्होंने बताया कि अवैध शराब की जांच कराई जा रही है। मृतकों के पोस्टमार्टम भी पुलिस मौजूदगी में कराया जा रहा है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस जहरीली शराब को बेचने के आरोपी की भी हालत खराब होने पर उसे भी भरतपुर आरबीएम अस्पताल रैफर किया गया है। फिलहाल पुलिस मृतकों के पोस्टमार्टम की कार्यवाही में जुटी हुई है। इस शराब दुखांतिका के बाद गांव तथा आसपास के क्षेत्र में मातम के साथ अफरातफरी का आलम बताया गया है।