Bharatpur / गुर्जरों के खिलाफ गहलोत का दांव पड़ा उल्टा ,माकन डोटासरा और मुख्यमंत्री गहलोत के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का बजाया बिगुल दिया ज्ञापन

Bharatpur news / राजेन्द्र शर्मा जती ।आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जरों द्वारा कर्नल किरोड़ी बैसला के नेतृत्व में 17 तारीख को भरतपुर के बयाना सेक्टर में की गई महापंचायत और 1 नवंबर से राजस्थान जाम करने की चेतावनी पर बैंसला सहित अन्य गुर्जर नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज करना जल और सरकार के खिलाफ और उल्टा पड़ गया है आज गुर्जर नेताओं ने राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कांग्रेश के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अजय माकन के खिलाफ समान कानून के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है ।

भरतपुर में सोमवार को गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने जिला कलक्टर नथमल डिडेल को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंप कर समान अपराध, समान न्याय व समान दण्ड के तहत समान कानून की पालना कराने की मांग
की। इस मौके पर प्रतिनिधि मण्डल ने जिला कलक्टर को अपनी गिरफ्तारी की भी मांग की।


बयाना तहसील के अड्डा गाँव मे हुई शनिवार को गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के आहवान पर आरक्षण की मांग को लेकर महापंचायत का आयोजन किया था। जिस पर
पुलिस प्रशासन के द्वारा बयाना थाने में कोरोना की गाइडलाइंस की पालना नहीं करने, आपदा प्रबन्धन अधिनियम तथा राजस्थान महामारी अधिनियम और बिना
अनुमति के महापंचायत बुलाने और महापंचायत के दौरान 1 नवम्बर को राजस्थान जाम करने का आहवान करने को लेकर कर्नल किरोडी सिंह बैंसला, विजय सिंह बैंसला, भूरा भगत सहित अनेक लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

जिसको लेकर गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के कर्नल किरोडी सिंह बैंसला के सुपुत्र विजय सिंह बैंसला, भूरा भगत, तेज सिंह, नरोत्तम सरपंच सहित अन्य प्रतिनिधियों ने सोमवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंप कर समान अपराध,
समान न्याय व समान दण्ड के तहत समान कानून की पालना कराने की मांग करते हुए ज्ञापन के साथ सोशल मीडिया पर लगे कुछ फोटो सलंग्न कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ डोटासरा और कांग्रेस नेता अजय माकन के खिलाफ राज्यपाल से मामला दर्ज करने की मांग की।