टोंक की पीलीतलाई नाबालिग हत्या प्रकरण में मृतका की बड़ी बहन ही निकली हत्या की आरोपित

Tonk News / फ़िरोज़ उस्मानी। टोंक के सदर थानान्तर्गत सोमवार को पीलीतलाई क्षेत्र में एक नाबालिग की गला रेत कर की गई हत्या प्रकरण में मृतका की बड़ी बहन गीता मीणा ही हत्या की आरोपित निकली। मृतका की बहन उसे अपनी पुत्री की हत्या का कारण मानती थी। जिसके चलते गीता मीणा ने उसे चाकू से कई वार कर गला रेत कर मौत के घाट उतार दिया।

ज़िला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधु ने पूरे मामले का खुलासा 24 घंटे के अंतराल में ही कर दिया है। जानकारी के अनुसार गत सोमवार को थाना सदर टोंक क्षेत्र में सुनसान प्लाट पर 15 वर्षीय नाबालिग लङकी की लाश मिली। जिसकी निर्मम तरीके से गला रेतकर हत्या की गई थी। सूचना पाकर मौक़े पर ज़िला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधु ,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक टोंक विपिन शर्मा, वृत्ताधिकारी टोंक सौरभ तिवाङी व छोटे लाल मीना  पु0नि0 थानाधिकारी सदर टोंक मय टीम पहुची।

विशेष टीम गठित

घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया। घटनास्थल का मोबाईल फोरेन्सिक यूनिट, एमओबी तथा ङाँग स्क्वाँयङ टीम द्वारा निरीक्षण किया गया। संदिग्धो से पूछताछ व दस्तयाबी हेतु अलग-अलग टीमें बनायी जाकर आसूचनाएं एकत्रित की गई।

हत्या का कारण

मृतका की बङी बहिन गीता मीणा को गिरफ्तार किया गया। अभियोक्त्री गीता मीणा ने पूछताछ में अपनी छोटी नाबालिग बहिन की हत्या करना स्वीकार किया है।
अभियोक्त्री गीता मीणा की ङेढ वर्षीय पुत्री की ङेढ महिने पहले मृत्यु हो गई थी। उक्त घटना से अभियोक्त्री काफी विचलित थी। मृतका अपनी बङी बहिन को पूर्व में कई बार धमकी दे चुकी थी कि तू व तेरा पति मुझ पर ज्यादा नजर मत रखा करो व यहां से चले जाओ, मेरे रास्ते में मत आओ, नहीं तो तुम्हे सबक सिखा दूंगी। ऐसी धमकी व मृतका के व्यवहार से अभियोक्त्री गीता मीणा उसे ही मन ही मन अपनी पुत्री की हत्यारिन समझती थी।

चाकू से रेता गला

घटना वाले दिन अभियोक्त्री गीता मीणा अपनी छोटी बहिन मृतका के साथ चारा लेने गई थी, वहां पर मृतका व अभियोक्त्री में झगङा हो गया, बातों ही बातों में मृतका द्वारा अपनी बङी बहिन की लङकी की उसकी गैर मौजूदगी में गला दबाकर हत्या करने की बात स्वीकार कर ली जिसे सुनते ही अभियोक्त्री ने गुस्से में आकर पास पङे फावङे व पत्थर तथा कांच की बोतल से मृतका के सिर व गले में वार किये तथा अपने पास रखे सब्जी काटने वाले चाकू से मृतका की गला रेतकर हत्या कर दी एवं अपने घर आकर मृतका घर में नही होने व उसे ढूंढने का दिखावा करने लगी।