TONK / वनस्थली विद्यापीठ द्वारा राजस्थान मुख्यमंत्री कोविड-19 राहत कोष को 11 लाख का चैक भेंट

TONK NEWS । वनस्थली विद्यापीठ(BANASTHALI VIDHAYPITH) ने COVID-19की आपदा से जूझने हेतु राशिरू. 11.00 लाख का चैक ‘राजस्थान मुख्यमंत्री COVID-19 राहत कोष) में भिजवाया है और आश्वस्त किया है कि इस युद्ध में वनस्थली विद्यापीठ पूरी तरह से सरकार के साथ है और आगे भी यथासंभव सहयोग करती रहेगी।

वनस्थली विद्यापीठ के कुलपति, प्रो॰ आदित्य शास्त्री ने बताया कि विद्यापीठ देश के किसी भी क्षेत्र में आई प्राकृतिक आपदाओं में हमेशा पीड़ितों के लिये संवेदनशील रहा है तथा यथासंभव सहायता के लिए तत्पर रहा है। विद्यापीठ का यह इतिहास रहा है कि ऐसे सभी अवसरों पर यथासंभव सहायता की है, चाहे वह केरल में आयी भीषण बाढ़ हो, जम्मू एवं कश्मीर प्रदेश में आयी बाढ़ हो़, उत्तराखण्ड त्रासदी हो या गुजरात का भूकम्प। सुनामी के बाद तो विद्यापीठ के पूर्व अध्यक्ष, श्रद्धेय दिवाकर शास्त्री , स्वयं अण्डमान-निकोबार गये थे और सुनामी में प्रभावित हमारी छात्राओं के परिजनों को सहायता राशि व्यक्तिगत रूप से प्रदान की थी। इस बार भी सभी कार्यकर्त्ताओं ने अपना सहयोग दिया है।

समूचा विश्व इस समय अभूतपूर्व परिस्थितियों से जूझ रहा है और हमारा देश भी इससे अछूता नहीं है। राजस्थान सरकार द्वारा इस दिशा में जारी दिशा-निर्देशों का वनस्थली पूरा समर्थन करती है और राज्य सरकार ने समय-समय पर जो निर्णायक कदम उठाये है उसकी पूरे देश में सराहना हो रही है। इतने बड़े राज्य में जिस प्रकार का लॉकडाउन किया गया है राज्य काफी हद तक कोरोना संक्रमण को सीमित कर पाया है। जिस युद्ध स्तर पर राज्य सरकार काम कर रही है स्पष्ट है कि उसके लिए बहुत सारे संसाधनों की आवश्यकता होगी और इसलिए वनस्थली ने सहयोग किया है।

ad