Bhilwara / कोरोना फाइटर्स रखेंगे कोरोना मरीजो व संदिग्धो पर नजर -जिला कलक्टर राजेन्द्र भट्ट

भीलवाड़ा जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट
भीलवाड़ा जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट

Bhilwara news / चेतन ठठेरा। जिला कलक्टर राजेन्द्र भटट् ने कहा कि अब जिले में कोरोना फाइटर्स कोरोना मरीजो तथा  संदिग्धों पर नजर रखेंगे। जिला प्रशासन ने नई पहल करते हुए इसके लिए त्रीस्तरीय मोनेटरिंग मेकेनिज्म विकसित किया गया है। इसके तहत हर गांव में तीन कोरोना फाइटर्स बनाये जाऐंगे। ये लोग होम क्वारन्टीन में रखे गये मरीजो कीे मोनिटरिंग करेंगे। उपखंड अधिकारी कोरोना केप्टेन कहलाएंगे।

उन्होंने कहा कि गांव के सरकारी कर्मचारी कोरोना संक्रमण सम्बंधी नियमित रिपोर्ट
पंचायत स्तर पर देंगे। पंचायत के कोरोना फाइटर्स ब्लॉक पर सूचना देंगे तथा चिकित्सा विभाग आगे की तैयारी तय करेगा। जिला कलक्टर ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस कर उपखंड अधिकारियों तथा विकास अधिकारियों को इस सम्बंध में आवष्यक दिशा-निर्देश प्रदान किये।

जिला कलक्टर ने कहा कि त्रिस्तरीय व्यवस्था से कोई भी संदिग्ध नजर से नहीं बच पाएगा। क्वारन्टीन में रखे लोगो की भी सही मॉनिटरिंग हो पाएगी।

उन्होंने कहा कि जिले में ग्रामीण तथा नगरपालिका क्षेत्रों में दूसरे स्तर की स्क्रिनिंग का करवाई जा रही है। दूसरे स्तर की स्क्रीनिंग से तस्वीर साफ होगी। पहले चरण में 7 दिन में 24 लाख ग्रामीणों की स्क्रीनिंग की गई थी जिसमें करीब 18000 सर्दी जुकाम के सामान्य रोगी पाए गए थे दूसरे चरण में इन्ही पर विषेष फोकस रहेगा। आवष्यकता होने पर उनका कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा। ठीक नहीं होने वाले मरीज क्वारन्टीन में रखे जाएंगे। स्क्रीनिंग तथा सेम्पल का कार्य निरन्तर जारी है। स्क्रीनिंग टीमों द्वारा लोगों को घर में रहने की हिदायत दी जा रही है।

ग्रामीण एवं नगरपालिका क्षेत्रों में होगा द्वितीय चरण का सर्वे

भीलवाड़ा नगर परिषद क्षेत्र को छोड़कर जिले के समस्त ग्रामीण एवं नगरपालिका क्षेत्रों में कोरोना वायरस को लेकर द्वितीय चरण का पुनः सर्वे करवाया जाएगा। प्रथम चरण में चिन्हित किए गए सर्दी ,जुकाम, बुखार, खांसी , श्वास की समस्या से पीड़ित नागरिकों एवं उनके परिवार का उपखंड स्तर पर द्वितीय चरण का सर्वे 31 मार्च एवं 1 अप्रैल को करवाया जाएगा।

जिला कलेक्टर ने उपखंड मजिस्ट्रेटो को निर्देशित किया है कि वे विकास अधिकारी, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा अन्य अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर उपखंड क्षेत्र में प्रथम चरण के सर्वे में चिन्हित किए गए सर्दी, जुखाम, बुखार, खांसी एवं श्वास की समस्या से पीड़ित नागरिकों तथा उनके परिवार का पूर्ण सर्वे एवं स्क्रीनिंग तत्काल प्रभाव से प्रारंभ करें

Slider