Bhilwara / भीड जुटी तो कल से नही मिलेगी राशन सामग्री,निजी क्लिनिको के चिकित्सक अधिगृहित- कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट

भीलवाड़ा कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट
भीलवाड़ा कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट

Bhilwara news /चेतन ठठेरा । जिला कलक्टर ने शुक्रवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए उन लोगों को क्वारन्टीन में रखने की तैयारी है जो बांगड़ अस्पाताल के रोगियों के निकट सम्पर्क में आए या फिर हाल ही में दूसरे राज्यों से यहां आए हैं।

भीलवाड़ा कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने बताया की कल पे निजी क्लीनिको व अस्पतालो के चिकित्सकों को भी अधिगृहित किया जाएगा तथा राशन सामग्री वितरण के दौरान सोशल डिस्टेसन नही होने पर राशन वितरण वाहन उस एरिया से रवाना हो जाएगा ।

उन्होने शहर और जिलेवासियो से फिर अपील की  वह 14, अप्रैल तक घरो से बाहर नही निकले स्वंय के जीवन के साथ-साथ अपनॅ और अफने परिचितो का जीवन सुरक्षित करे।

ऐसा हुआ तो राशन सामग्री नही मिलैगी

कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने कहा की जनता की सुविधा के लिए घरो तक राशन सामग्री वितरण की व्यवस्था की लेकिन सामग्री वितलण के दौरान लोगो की भीड एकत्र होने की सूचनाएं लगातार मिल रही है यह गलत है इससे कोरोना वायरस को रोकथाम के आब तक किए जा रहे सारे प्रयास बेकार होगे और इसलिए कल से माॅडल के तौर पर 6 स्थानो पर राशन सामग्री वितरण सोशल डिस्टेशिंग व्यवस्था( गोले बनाकर एक गोले मे एक दूरी से) की जा रही है और यह व्यवस्था सही नही रही भीड पडती है लोग नही मानते है तो राशन सामग्री वितरण वाहन वहां से चला जाएगा ।।

सर्वे का कार्य राउण्ड वाइज जारी रहेगा

कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने बताया की शहर और जिले मे सर्वे का कार्य राउण्डवाइज लगातार जारी रहेगा जब तक की रोगी मे संक्रमणपूरी थरह समाप्त नही हो जाता ।

निजी क्लिनिको के चिकित्सक होंगे कल अधिगृहित

कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट ने बताया की जिले मे कोरोना वायरस को भयावहता को देखते हुए कल से सभी निजी क्लिनिको व अस्पतालो के चिकित्सकों को अधिगृहित कर लिया जाएगा ।

क्वारन्टीन वार्ड के 14 होटल के 1541कमरे बुक

जिला कलक्टर ने कहा कि ऐहतियाते के तौर पर क्वारन्टीन में रखने के लिए 14 विभिन्न होटल्स एवं रिसॉर्ट्स के 1541 एकल कमरों को अधिगहित किया गया है। इसके अलावा आगे की तैयारी के लिए विभिन्न सामुदायिक भवनों को अधिग्रहित किया गया है जिनमें आवश्यकतानुसार 13 हजार 10 क्वारन्टाइन बेड तैयार किए जा सकें।

बागंड मे इलाज लेने रोगियो के परिजन व निकट सम्पर्कियों कोक्वारन्टीन वार्ड मे रखना शुरू

बांगड़ अस्पताल से इलाज लेने वाले रोगियों के परिजनों एव निकट सम्पर्कियों की कोरोना जांच पर जोर दिया जा रहा है और उन्हे 14 दिन की अवधि में क्वारन्टीन में रखने का कार्य किया जा रहा है। अभी तक 761 सेम्पल में से 21 की पॉजिटिव व 432 की नेगेटिव रिपोर्ट आई है, 308 की रिपोर्ट आना बाकी है।

पोजिटिव रोगियों की रिपोर्ट आई नेगेटिव

महात्मा गांधी अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड मे भर्ती संक्रमितों में से 3 की रिपोर्ट नेगेटिव आने से राहत की उम्मीद बंधी है। 24 घंटे सेम्पल की व्यवस्था के तहत लगातार सेम्पल लिए जा रहे हैं और उन लोगों को क्वारन्टीन में रखा जा रहा है।

महाराष्ट्र से आने वाले लारी वालो की पहचान शुरू

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले की सीमा पर 24 चौकियां लगाकर आवागमन बंद कर दिए जाने के बावजूद रायपुर क्षेत्र में कच्चे रास्तों से घुस आए लोगों को भी क्वारन्टीन में रखा जाएगा। जिला कलक्टर ने बताया कि रायपुर उपखंड अधिकारी को इस बारे में निर्दश दे दिए गए हैं कि दो दिन में महाराष्ट्र में आईसक्रीम लॉरी लगाने वाले इन लोगों की पहचान कर क्वारन्टीन में रखने की व्यवस्था करें।

खाद्य सा वितरण के समय भीड जमा होने पर कार्रवाई

जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जो लोग बार-बार समझाने के बावजूद घरो से निकलकर सड़कों पर आ रहे हैं या आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी के समय भीड़ के रुप में जमा हो रहे हैं उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोग न केवल खुद के परिवार बल्कि अन्य लोगों को भी संक्रमण की संभावना की ओर धकेल रहे हैं जो कि ठीक नहीं। जिला मजिस्ट्रेट के निर्देशानुसार जिले की सीमा के कच्चे रास्तों को भी सील कर दिया गया है और जरुरत पड़ने पर अतिरिक्त सुरक्षा बल भी मंगवाया जा सकता है।

जिले के 9 गांवों व एक ग्राम पंचायत मे कर्फ्यू

जिला कलक्टर राजेंद्र भट्ट ने नाथड़ियास ग्राम में कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति पाये जाने से नाथड़ियास व समीपस्थ गावों में धारा 144 के तहत जीरो मोबिलिटी निषेधाज्ञा जारी की है। जिला कलक्टर ने कोरोना वायरस के अत्यधिक संक्रमण के मद्देनजर रायपुर उपखंड के राजस्व ग्राम नाथड़ियास को केंद्रबिन्दु मानते हुए ग्राम पंचायत नाथड़ियास सहितं आस-पास के गांवों पनोतिया, आसपुर, मोटरो का खेड़ा की सम्पूर्ण सीमा क्षेत्र को जीरो मोबिलिटि क्षेत्र घोषित करते हुए निषेधाज्ञा लामू की है। इन लोकिंग ऐरिया में जन साधारण का सख्ती से आगमन-निर्गमन 27 मार्च दोपहर दो बजे से आगामी आदेश तक निषेध रहेगा। गौरतलब है कि भीलवाड़ा शहर, मांडल कस्बे का एक क्षेत्र और नौ गांवों में पहले ही कर्फ्यू लगा रखा है।

इंटरनेट नही होगा बंद

भीलवाडा में ना ही आर्मी तैनात की जाएगी और ना ही इंटरनेट बंद किया जाएगा यह दोनों सोशल मीडिया पर कोरी अफवाह है।

ब्रीफिंग मे यह थे मौजूद

ब्रीफिंग के दौरा जिला पुलिस अधीक्षक हरेंद्र महावर, महात्मा गांधी चिकित्सालय के पीएमओ डॉ अरुण गौड़ व सीएमएचओ डॉ मुश्ताक भी उपस्थित रहे

ad