नप सफाई कर्मियों को न तो मॉस्क मिले न ही हाथ के दस्ताने,ऑफ़िस स्टॉफ को मिले मॉस्क

Tonk News( रोशन शर्मा)। नगर परिषद टोंक में सफाई कर्मचारी कोरोना वायरस की कभी भी चपेट में आ सकते है।क्योंकि परिषद ने सफाई कर्मियों को न तो मॉस्क न ही हाथ के दस्ताने उपलब्ध कराए जब कि परिषद के अधिकारी व कर्मचारियों को मॉस्क दिए गए है ।जब कि आवश्यकता सफाई कर्मचारियों को ज्यादा है।

टोंक नगर परिषद की नादानी कहा जाए या लापरवाही की जिन सफाई कर्मचारियों को सबसे अधिक सतर्कता की जरूरत है उनको न तो मॉस्क दिए गए न ही हाथ के दस्ताने ऐसे हालातो में सैकड़ों सफाई कर्मचारी अपनी कोरोना वायरस से मौत को साथ लेकर ड्यूटी को अंजाम देने में जुटे हुए हैं।वही दूसरी तरफ कार्यालय में ड्यूटी देने वाले कर्मचारी मॉस्क लगा करके बैठे हुए है।

नप सफाई कर्मियों को न तो मॉस्क मिले न ही हाथ के दस्ताने,ऑफ़िस स्टॉफ को मिले मॉस्क 1

हाल ही में अमिताभ बच्चन की और से ट्वीट किया गया है कि कोरोना वायरस संक्रमित रोगी के मानव मल के कीटाणुओं से भी कई दिनों तक कोरोना संक्रमण का खतरा है।ऐसे हालातो मे टोंक में सफाई कर्मचारी रोजाना कई टन मानव मल सहित कचरा व गंदगी अपने हाथों से उठाता है।

यदि किसी सफाई कर्मचारी को कोरोना वायरस ने चपेट में ले लिया तो न सिर्फ उसके बल्कि पूरा परिवार ही नही पूरी बस्ती कोरोना वायरस की चपेट में आ सकती है क्योंकि वाल्मीकि समाज अलग सामूहिक रूप से रहता है।

Slider