Tonk / कलेक्टर के.के.शर्मा ने कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात से निपटने में सहयोग की अपील की

टोंक जिला कलेक्टर के.के.शर्मा
टोंक जिला कलेक्टर के.के.शर्मा

Tonk News । टोंक जिला कलेक्टर के.के.शर्मा ने पंचायतीराज एवं स्थानीय निकाय जनप्रतिनिधियों को पाती लिखकर उनके क्षेत्र में कोरोना वायरस (COVID-19) से बचाव के उपाय और सावधानी बरतने में सहयोग की अपील की है। जिला कलेक्टर ने 236 सरपंच व इतने ही उपसरपंचों, 2 हजार वार्ड पंचों, नगर परिषद, नगर पालिका के अध्यक्ष उपाध्यक्षों एवं वार्ड मेम्बरों को पाती लिखकर कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात से निपटने में सहयोग की अपील की है।

जिला कलेक्टर ने जनप्रतिनिधियों को उनके क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाला बताते हुए आम जनता के हितार्थ किए जाने वाले समस्त कार्य और सुखद जीवन के लिए सभी आवश्यक उपाय करने पर बल दिया। उन्होने अपनी पाती के माध्यम से जनप्रतिनिधियों का ध्यान कोरोना वायरस की ओर आकर्षित करते हुए बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे वैष्विक महामारी घोषित कर दिया है। यह दुनिया के 152 देशों में अब तक अपने पांव पसार चुकी है। आपको इससे घबराना नहीं है, ना ही अनावश्यक चिन्तित होना है।

बस आवष्यकता है, पूर्ण सजग रहने की। स्वयं को भी एवं आपके पंचायत क्षैत्र कीे आम आवाम को भी, विश्व स्वास्थ्य संगठन, भारत सरकार एवं राजस्थान सरकार ने इस संबंध में एडवाईजरी जारी की हुई है। यह बीमारी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से होती है, अत: संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाये रखनी है, अपने हाथ अनेक बार साबुन व पानी से धोयें, बुखार-खांसी से पीडि़त व्यक्ति से एक मीटर की दूरी बनाये रखें, भीड़ भाड़ वाले स्थानों में जाने व अनावश्यक यात्रा से बचें, पानी का अधिक से अधिक सेवन करें, मांसाहारी खाद्य् पदार्थों के सेवन को ना कहें, स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें, खांसी-जुकाम होने पर मुहं एवं नाक को ढक़कर रखें।

उन्होने उम्मीद जाहिर कि है आप एक जागरुक और जिम्मेदार प्रतिनिधि होने के नाते आम जन तक यह संदेश प्रसारित करेंगे। हां, एक बात और रह गई। आने वाले समय में पंचायतों एवं गांवों में अनेक तीज-त्योंहार एवं मेलों का आयोजन होने वाला है। यह त्यौंहार एवं मेले हमारी धार्मिक एवं सांस्कृतिक मान्यताओं के केन्द्र में हैं। दूसरी तरफ यह भी सच है कि ‘‘जान है, तो जहान है’’ अत: ऐसे मेलों के आयोजन में विशेष सावधानी बरतनी होगी। आमजन को जागरुक करना होगा कि यथा सम्भव ऐसे भीड़भाड़ वाले स्थानों,आयोजनों में जाने से बचें।

कोरोना वायरस के बारे में पम्पलेट, बैनर, होर्डिग्ंस लगाकर जागरुक किया जा सकता है। जिला कलेक्टर ने जनप्रतिनिधियों द्वारा किए गए प्रयासों से पत्र के माध्यम से उन्हें अवगत कराने एवं मिलजुुल कर इस संकट की घड़ी से उबरने और इसमें उनके विषेष सहयोग की अपेक्षा की है।

ad