लापरवाह चिकित्सको पर अधिकारी मेहरबान ,एक को बीसीएमओ तो दूसरे को बनाया चिकित्सा प्रभारी

  निवाई,बौली (विनोद सांखला/ राजेश मीना) सवाईमाधोपुर जिले की उपतहसील मित्रपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कार्यरत चिकित्सको पर बड़े अधिकारी मेहरबान हो रहे है | गौरतलब है की मित्रपुरा में कार्यरत चिकित्सक बहुत लापरवाह हो रहे थे अस्पताल में सप्ताह में एक दिन आकर उपस्थिति दर्ज करते थे | जिनको लेकर लगातार खबरे प्रकाशित भी …

लापरवाह चिकित्सको पर अधिकारी मेहरबान ,एक को बीसीएमओ तो दूसरे को बनाया चिकित्सा प्रभारी Read More »

October 29, 2018 10:45 am

 

निवाई,बौली (विनोद सांखला/ राजेश मीना) सवाईमाधोपुर जिले की उपतहसील मित्रपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर कार्यरत चिकित्सको पर बड़े अधिकारी मेहरबान हो रहे है | गौरतलब है की मित्रपुरा में कार्यरत चिकित्सक बहुत लापरवाह हो रहे थे अस्पताल में सप्ताह में एक दिन आकर उपस्थिति दर्ज करते थे | जिनको लेकर लगातार खबरे प्रकाशित भी होती रही | लेकिन सम्बंधित अधिकारी लापरवाही चिकित्सको पर कार्यवाही करने के बजाय उनको बड़ी जिम्मेदारी दे दी |

लापरवाह सामने आने के बाद भी दबा रहा है विभाग – मित्रपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत चिकित्सा अधिकारी डॉ अनिल जैमनी और डॉ महेंद्र चौधरी सप्ताह में एक दिन आकर उपस्थिति दर्ज करते थे | जिसकी शिकायत के बाद चिकित्सको की लापरवाही उच्च अधिकारियो सहित सभी के सामने आ गयी थी | सम्बंधित लापरवाह चिकित्सक की शिकायत निदेशक और मंत्री तक भी पहुची लेकिन कार्यवाही कुछ नहीं हुई |

नोटिस दिया बाकि कार्यवाही राम भरोसे

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सको की लापरवाही को लेकर विभाग ने नोटिस दे दिया और लेकिन कार्यवाही राम भरोसे छोड़ दी | वही नोटिस के बाद जाँच को लेकर पड़ताल में सामने आया की कुछ दिनों पूर्व सीएमएचओ ने लापरवाह चिकित्सको के खिलाफ जाँच बीसीएमओ को दे दी है लेकिन बीसीएमओ से जानकरी लेने के बाद पता चला की मेरे पास किसी ने कोई जाँच नहीं भेजी

डिमोशन की जगह प्रमोशन

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लापरवाह चिकित्सको पर विभाग की कदर मेहरबान है इसका नमूना सभी के सामने है लापरवाह दोनों चिकित्सको को लेकर विभाग एक और नोटिस देकर कार्यवाही करने के निर्देश देता वही दूसरी और विभाग एक उच्च अधिकारियो ने एक चिकित्सक को बीसीएमओ और एक चिकित्सक को चिकित्सा प्रभारी बनाया दिया |

मेरे पास मित्रपुरा सामुदायिक स्वस्थाय केद्र में कार्यरत चिकित्सको की लापरवाही को लेकर सीएमएचओ द्वारा कोई जाँच के आदेश नहीं आये अगर जाँच के आदेश आते तो में अब तक जाँच कर रिपोर्ट पेश कर देता – पूर्व बीसीएमओ कजोड मल मीना

Prev Post

अपनी प्रासंगिकता खो चुके हैं तोगडि़या : भाजपा

Next Post

बेनीवाल ने हताश और निराश लोगों ने जमावड़ा खड़ा किया: भाजपा

Related Post