कलेक्टर को पानी की बोतल में जहर देकर हत्या का प्रयास

नई दिल्ली/ देश के इतिहास में पहली बार ऐसी घटना सामने आई है जब एक आईएएस अधिकारी जिला कलेक्टर को मीटिंग के दौरान उनकी हत्या करने की नियत से पानी की बोतल में जहर दिया गया इसका खुलासा होने के बाद प्रशासनिक अमले में हड़कंप सा मच गया है वहीं इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मुकदमा दर्ज कर विशेष जांच के आदेश उपराज्यपाल द्वारा दिए गए हैं जी हां यह घटना घटित हुई है देश के केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में जब डीएम पुरवा गर्ग के साथ ।

इस घटना के बारे में पुडुचेरी के राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष अधिकारी द्वारा नजदीक में स्थित डी-नगर पुलिस स्टेशन को एक शिकायती पत्र लिखकर सूचित किया गया है, जिसमें घटना के बारे में बताते हुए जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग की गई है।

इस पत्र में लिखा है कि ‘6 जनवरी को करीब 11 बजकर 45 मिनट पर डीएम कार्यालय में एक ऑफिशियल मीटिंग चल रही थी, तभी कार्यालय के स्टाफ द्वारा डीएम को पानी की ऐसी बोतल मुहैया कराई गई, जिसमें पानी की जगह ‘जहरीला तरल पदार्थ’ था, जो दिखने में पारदर्शी था।” साथ ही 1 लीटर की ‘स्विस फ्रेश’ नाम के ब्रांड की बोतल को साथ में भेजा गया है । शिकायत मे जांच करके आवश्यक कार्रवाई की मांग की गई है।

इसी मसले पर पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने ट्विटर पर लिखा, ”पुडुचेरी के कलेक्टर आईएएस पुरवा गर्ग को उनके कार्यालय में स्टाफ द्वारा एक पानी की बोतल के रूप में पारदर्शी ‘जहरीला’ तरल पदार्थ मुहैया कराया गया, इस मामले में एफआईआर रजिस्टर कर ली गई है, डीजीपी आईपीएस बालाजी श्रीवास्तव ने इस मामले में विशेष जांच करने के लिए आदेश दे दिया है।