चरित्र पर शंका, पति, सास ससुर ने की क्रूरता की हंदे पार की रूह कांप जाए, कमजोर दिल वाले नही पढे खबर

चरित्र पर शंका, पति, सास ससुर ने की क्रूरता की हंदे पार की रूह कांप जाए, कमजोर दिल वाले नही पढे खबर

उज्जैन/ मध्य प्रदेश मे धर्म नगरी और महाकाल के नाम से विख्यात उज्जैन के समीप स्थित नागदा जिले में एक महिला के उसके पति सास ससुर और एक अन्य महिला रिश्तेदार ने चरित्र पर शंका होने मात्र से ऐसी कुर्ता की की रूह कांप जाए । कुर्ता की शिकार महिला सड़क पर मदद के लिए अजमेरी होकर पुकारती रही लेकिन किसी ने मदद नहीं की यहां भी इंसानियत मर गई आखिर सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जिंदगी और मौत के बीच तड़प रही महिला को अस्पताल में भर्ती कराया जहां गंभीर स्थिति होने से उसे इंदौर रेफर किया गया है वहां उक्त महिला जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है इस दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम देने वाले सास और पति अभी भी फरार हैं लेकिन ससुर और रिश्तेदार महिला को गिरफ्तार कर लिया है ।

घटना मंडी बिरलाग्राम थाना क्षेत्र मे स्थित विद्यानगर की है यहा रहने वाले पेशे से चालक राजेश को और राजेश के पिता सीताराम , सास गेंदा बाई को राजेश की पत्नी राधा(35) पर चरित्र पर शंका करते थे और इसी को लेकर मंगलवार को राजेश सास, ससुर तथा एक रिश्तेदार महिला केलाबाई ने मिलकर राधा पर इंसानियत और क्रूरता की सभी चरम सीमाएं पार करते हुए स्तन,जीभ और गाल धारदार हथियार से काट दिए इनकी हैवानियत तब भी शांत नहीं हुई और इन्होंने राधा के मुंह और प्राइवेट पार्ट में बेलन तक डाल दिया पता उसे खून से लथपथ मरणासन्न अवस्था में घर के बाहर फेंक कर भाग गए लेकिन आश्चर्य की बात यह थी कि आस-पड़ोस के लोग उस बेस बेबस और लाचार महिला को पीटते हुए देखते रहे किसी ने बचाने की भी कोशिश नहीं गई यही नहीं जब राधा को घर के बाहर फेंक गए और वह तड़पती रही मदद के लिए लेकिन कोई भी उसकी मदद करने के लिए आगे नहीं आया किसी ने पुलिस को सूचना दी उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर हालत में राधा को अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी स्थिति नाजुक होने पर उसे इंदौर रेफर कर दिया गया जो अब जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है पुलिस को घर के अंदर मौके से महिला के कटे हुए अंग और खून बिखरा हुआ मिला है ।

इस घटना की सूचना मिलते ही राधा का भाई राधेश्याम मौके पर पहुंचा और पुलिस थाने में अपने जीजा तथा उसके माता-पिता वह एक महीना के खिलाफ राधा के बयानों के आधार पर एक रिपोर्ट दिए एएसपी अशोक भूरिया के अनुसार इस संबंध में मामला दर्ज कर तत्काल आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीमें बनाकर रवाना कर दी गई थी टीम ने चंद्रावतीगंज से ससुर सीताराम को तथा मोहताज इलाके से रिश्तेदार महिला अकेला भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि सास और राधा (35)का पति अभी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है राधा दो बच्चों की मां है एक बच्चा 14 साल का और एक बच्चा 5 साल का बताया जाता है

मुख्य सड़क के पास बने एक मकान से एक महिला के चीखने-चिल्लाने की काफी आवाजें आ रही थीं। इसके बाद परिवार के सदस्य उसे पीटते हुए बाहर लेकर आए। खून से लथपथ महिला को मरा हुआ समझकर उसे घर के बाहर फेंककर वे सभी फरार हो गए।

मंडी थाना पुलिस के मुताबिक महिला को पहले जनसेवा अस्पताल पहुंचाया गया था, जहां से उसे उज्जैन भेजा गया। स्थिति गंभीर होने पर महिला को इंदौर रैफर किया गया। पुलिस ने तीन अलग-अलग टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

पहले भी की थी मारपीट

महिला की शादी 15 साल पहले राजेश के साथ हुई थी। इनके दो बच्चे हैं। एक की उम्र 14 तो दूसरे की उम्र पांच साल है। राजेश पेशे से ट्रक ड्राइवर है और ज्यादातर समय घर से बाहर ही रहता है। घटना के कुछ दिनों पहले महिला अपने रिश्तेदार के साथ कहीं गई थी। सोमवार 11 जनवरी को राजेश उसे वापस लेकर आया था।

कटे हुए अंग बाहर मिले

पुलिस को शक है कि राजेश काफी समय से अपनी पत्नी को मारने की योजना बना रहा था। कुछ दिनों पहले ही राजेश एक तलवार लेकर आया था। घटना को अंजाम देने में उसने तलवार का ही उपयोग किया था। घर के अंदर पुलिस को महिला का खून और कटे हुए अंग भी मिले हैं। हालांकि फरार होने से पहले आरोपियों ने खून को साफ करने की कोशिश भी की थी।