न्यूज़

आपसी सहमति से गिरा खोहल्या पंचायत सरपंच का अविश्वास प्रस्ताव

 

विमला देवी ही यथावत बनी रहेगी खोहल्या ग्राम पंचायत सरपंच

तहसीलदार की मौजूदगी में हुई कोरम की सहमति बैठक

मौके पर प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस जाप्ता रहा तैनात

अलीगढ़, (शिवराज मीना)। उपखण्ड क्षैत्र के खोहल्या ग्राम पंचायत के अटल सेवा केन्द्र में शुक्रवार को सरपंच विमला देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के मामले में जिला निर्वाचन अधिकारी टोंक के निर्देश पर तहसीलदार गजानंद जांगिड़ की निगरानी में कोरम की बैठक आयोजित हुई। बैठक में आपसी सहमति से अविश्वास प्रस्ताव गिर गया। बैठक में उपसरपंच रामहंस गुर्जर सहित वार्ड पंचों ने सशर्त पर अविश्वास प्रस्ताव गिराया। जिससे अब यथावत सरपंच विमला देवी ही खोहल्या ग्राम पंचायत सरपंच की सरपंच बनी रहेगी। सरपंच के अविश्वास प्रस्ताव को लेकर भारी गहमागहमी रहीं। इस मौके पर पंचायत समिति विकास अधिकारी डॉ.शिवसिंह पोसवाल , बनेठा थानाप्रभारी मुकेश कुमार यादव , अलीगढ़ पुलिस थाना एएसआई कलीम खान , खोहल्या पंचायत ग्राम विकास अधिकारी अब्दुल हमीद अंसारी सहित पुलिस जाप्ता तैनात रहा।
गौरतलब है कि खोहल्या ग्राम पंचायत सरपंच विमला देवी के खिलाफ उपसरपंच सहित सभी वार्ड पंचों ने अविश्वास प्रस्ताव लेकर जिला कलेक्टर टोंक को ज्ञापन दिया गया था।

ज्ञापन में पंचायत के वार्ड पंचों आरोप लगाया था कि खोहल्या ग्राम पंचायत सरपंच विमला देवी नियमित रूप से ग्राम पंचायत में नहीं आती है। समय-समय पर मासिक बैठकों में भी उपस्थित नहीं होती है। जिससे पंचायत में विकास कार्य पूरी तरह ठप्प हो रहे थे। लोगों को राजकार्य के लिये इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। इसको लेकर वार्ड पंचों में भारी रोष व्याप्त है।

इधर विमला देवी सरपंच ग्राम पंचायत खोहल्या का कहना है कि पंचायत में ठप्प पड़े विकास कार्यो को जल्द पूरा करवाया जायेगा। अब पंचायत में मासिक बैठकों आयोजन किया जायेगा। आमजन की समस्याओं का समय -समय पर निस्तारण के लिए प्रयासरत रहूँगी। कोरम की सहमति से पंचायत में विकास कार्य कराये जायेंगे। भविष्य में मेरे से ऐसी गलती नहीं होगी।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *