कल्याण मटका रिजल्ट का सबसे भारी चार्ट सट्टा किंग आज ओपन 2022 | Kalyan Matka Result ka sabse bhari Chart Today Satta King 2022

Kalyan satta chart 2022 ये चार्ट सट्टा मटका का सबसे महत्वपूर्ण है

July 18, 2022 8:17 pm
कल्याण मटका रिजल्ट का सबसे भारी चार्ट सट्टा किंग आज ओपन 2022 | Kalyan Matka Result ka sabse bhari Chart Today Satta King 2022

Kalyan Matka 2022 Result Chart Satta king – सट्टा मटका कल्याण मटका रिजल्ट चार्ट आज ओपन परिणाम को सबसे पहले यहाँ पर देख सकते हैं। कल्याण मटका (Kalyan Matka) एक प्रकार का जुआ है या यूँ कहें कि यह एक प्रकार का सट्टा होता है जो लॉटरी नंबर सिस्टम पर आधारित होता है। इस लॉटरी नंबर सिस्टम से ही प्रतिदिन नंबर खुलता है, और जो नंबर खुल जाता है उस नंबर पे लगाए हुए पैसे को व्यक्ति जीत जाता है, अगर नंबर दूसरा खुलता है तो आप लगाए हुए सारे पैसे हार जाते हैं। कल्याण मटका को बड़े पैमाने पर मुंबई, हरियाणा, दिल्ली जैसे राज्यों में खेला जाता है। 

Kalyan Matka Satta Open होने का समय शाम 3:50 बजे है जबकि Kalyan Matka Satta Close होने का समय शाम 5:50 बजे है। Kalyan Night Open होने का समय रात 9:15 बजे है जबकि Kalyan Night Close होने का समय रात 11:30 बजे है।

Kalyan Morning Open होने का समय सुबह 11 बजे और Kalyan Morning Close होने का समय दोपहर 12:02 बजे है। कल्याण मटका को numbers के आधार पर खेला जाता है। इसमें सही नंबर या जोड़ी बताने वाले को जीता हुआ माना जाता है।

Kalyan satta chart 2022

सट्टा मटका कल्याण मटका (Satta Matka Kalyan Matka) में सही नंबर और जोड़ी बताने के लिए इंटरनेट पर कई website और app उपलब्ध हैं जो Kalyan matkà Result Today का अंदाजा बिल्कुल सही बताने का दावा करते हैं। इसकी तरह अन्य गेम भी मार्किट में उपलब्ध हैं जैसे कि राजधानी डे मटका, राजधानी नाइट मटका, 7 स्टार डे, डे लक्की स्टार, परेल डे, परेल नाइट आदि।

ओपन-क्लोज – Satta Matka Kalyan Matka Chart Result Today Live 2022, satta matkà results today, satta matta matka kalyan result, satta matkà, satta matta matka 143, kalyan matkà result today, kalyan morning result, kalyan day result, kalyan day chart, kalyan morning chart, kalyan matka, kalyan satta matkaसट्टा मटका कल्याण मटका रिजल्ट 2022 (Satta Matka Kalyan Matka Result Today 2022)

दूसरी जगहों पर लगने वाला समय मटका गेम की तुलना में कम होता है।लोगों को इस गेम के कई अन्य विकल्प मिल गए हैं।सट्टा मटका भारत का एक पारम्परिक खेल है जो कि 90 के दशक में लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हुआ। शुरुआत में इसे पुरुष, स्त्रियां सभी के द्वारा ऑफलाइन खेला जाता था।

लेकिन आजकल धीरे धीरे इसकी लोकप्रियता कम हो गयी है जिसके निम्न कारण हैं:वर्ष 1962 में कल्याण भगत ने वर्ली मटका पेश किया था, दो साल बाद 1964 में रतन खत्री ने न्यू वर्ली मटका पेश किया, जिसमें खेल के नियमों में मामूली बदलाव किया गया था, जो कि जनता के लिए अधिक अनुकूल थे। 

दोनों के द्वारा चलए हुए मटका खेल काफी लोकप्रिय हो गए थे, और आज भी इसको काफी संख्या में लोगों के द्वारा खेला जाता है। सरकार द्वारा इस खेल को प्रतिबंधित कर दिया गया है लेकिन इसके बावजूद क़ानून की नज़रों से छिपकर इसको लोग खेलते हैं।

हम आपको ऐसे games खेलने की सलाह बिलकुल भी नहीं देते हैं।सट्टा मटका की शुरुआत कल्याणजी ने की थी इसलिए इसे कल्याण मटका कहा जाता है। कल्याण मटका को मूल रूप से न्यूयॉर्क कॉटन एक्सचेंज से बॉम्बे कॉटन एक्सचेंज को प्रेषित कपास के उद्घाटन और समापन दरों पर सट्टेबाजी में शामिल करने के लिए शरू किया गया था, जिसकी शरुवात कल्याण जी भगत के द्वारा 1960 में मुबई से हुई थी।

इसमें यह अनुमान लगाया जाता था कि यह किस rate में open होगा और किस rate में close होगा? सन 1961 में न्यूयॉर्क कॉटन एक्सचेंज के द्वारा इसे बंद कर दिया गया।सट्टा मटका कल्याण मटका का इतिहास (Satta Matka Kalyan Matka History)

भारतीय समाज के लोगों के द्वारा इस खेल को एक बुरी आदत माना जाता था।

इस खेल को भारत सरकार के द्वारा ban कर दिया गया है।

भारत में सट्टा मटका (Satta Matka) खेलना गैरकानूनी है लेकिन इसके बावजूद लोगों के द्वारा इस खेल को कानून की नजर से छिपकर खेला जाता है। कल्याण मटका (Kalyan Matka) को खेलने के लिए कई तरह की app उपलब्ध है जिन्हे आप डाउनलोड कर सकते हैं।

शुरुआत में इस खेल को ऑफलाइन खेला जाता था लेकिन इस खेल को सरकार द्वारा ban करने के बाद अब इस क़ानून की नज़रों से छिपकर ऑनलाइन खेला जाता है। आपको कई तरह के सट्टा मटका गेम देखने को मिल जायेंगे जिनके से कल्याण मटका एक सट्टा मटका गेम है।

Prev Post

अधिकारी सतर्कता के साथ करे कामः-एसडीएम ओमप्रभा

Next Post

"आजादी की रेलगाडी और स्टेशन" कार्यक्रम भीलवाड़ा स्टेशन पर हुआ सम्पन्न 

Related Post