पाकिस्तान में भारतीय समझकर अपने ही पायलट को मारा

  नई दिल्‍ली पाकिस्‍तान और भारत के बीच फैले तनाव के बीच एक अंग्रेजी अखबार फर्स्‍ट पोस्‍ट ने लंदन के एक वकील के हवाले से पाकिस्‍तान के झूठ की कलई खोलकर रख दी है। खबर के मुताबिक 27 फरवरी को पाकिस्‍तान ने कहा था कि उसने भारतीय वायुसेना के दो लड़ाकू विमानों को मार गिराया …

पाकिस्तान में भारतीय समझकर अपने ही पायलट को मारा Read More »

March 4, 2019 11:32 am

 

नई दिल्‍ली
पाकिस्‍तान और भारत के बीच फैले तनाव के बीच एक अंग्रेजी अखबार फर्स्‍ट पोस्‍ट ने लंदन के एक वकील के हवाले से पाकिस्‍तान के झूठ की कलई खोलकर रख दी है। खबर के मुताबिक 27 फरवरी को पाकिस्‍तान ने कहा था कि उसने भारतीय वायुसेना के दो लड़ाकू विमानों को मार गिराया है। जबकि भारत का कहना है कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान ने पाकिस्‍तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया था, जिसका मलबा गुलाम कश्‍मीर में जाकर गिरा था।
अखबार की खबर भी भारतीय बयानों की पुष्टि करती दिखाई दे रही है। इसके मुताबिक उस दिन एक एफ-16 विमान मार गिराया गया था। इस विमान को विंग कमांडर शहाजुदृीन उड़ा रहे थे। विमान में आग लगने के बाद शहाजुद्दीन सफलतापूर्वक जमीन पर आ गए थे। लेकिन वहां पर स्‍थानीय लोगों ने उसे भारतीय पायलट समझकर बुरी तरह से मारा। जब तक सुरक्षाकर्मी उसको बचाकर अस्‍पताल लेकर गए तब तक पायलट की मौत हो चुकी थी। अखबार ने खबर लंदन के एक वकील खालिद उमर के हवाले से दी है। मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि विंग कमांडर शहाजुद्दीन पाकिस्‍तान एयरफोर्स की 19 स्‍क्‍वाड्रन शेरदिल से संबंधित थे। उनके पिता भी पाकिस्‍तान एयरफोर्स में डिप्‍टी चीफ ऑफ एयर स्‍टाफ ऑपरेशन हैं। उनका नाम एयर मार्शल वसीमुद्दीन हैं।
आपको याद होगा कि 27 फरवरी को हुई इस घटना के कुछ देर बाद ही मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा था कि उनके विमान ने भारतीय एयरफोर्स के दो विमानों को मार गिराया है। इस दौरान दो पायलट पाकिस्‍तान की गिरफ्त में हैं। इनमें से एक अस्‍पताल में है। उनका यह बयान बार-बार पाकिस्‍तान की मीडिया में दिखाया गया। यदि उनके बयान पर ध्‍यान दें तो इस बात की पुष्टि उन्‍होंने भी की थी कि दो पायलट पैराशूट के जरिए जमीन पर आए थे। हालांकि बाद में भी पाकिस्‍तान की तरफ से इस बात का कोई जिक्र नहीं किया गया कि आखिर अभिनंदन के अलावा जिस दूसरे पायलट का जिक्र बार बार मेजर जनरल गफूर ने किया उसका क्‍या हुआ। इतना ही नहीं पायलट की मौत की खबर तक को दबा दिया गया और पाकिस्‍तान की मीडिया ने भी इस बारे में कोई खबर नहीं दी।
आपको यहां पर एक बात और बता दें कि सोशल मीडिया पर विंग कमांडर शहाजुद्दीन को लेकर काफी कुछ जानकारी दी गई। इतना ही कुछ मैसेज में उनका फोटो भी डाला गया है। हालांकि दैनिक जागरण ट्वीटर पर डाले गए फोटो की पुष्टि नहीं करता है।

Prev Post

अब राजस्थान में विद्यार्थी पढ़ेंगे वीर सैनिकों की गाथाएं

Next Post

गहलोत ने बदल दिया आचार संहिता से पहले प्रशासनिक बेडा, बडे स्तर पर तबादले

Related Post