न्यूज़

Electric Vehicle के चार्जिंग स्टेशन बिज़नेस कैसे करें

Electric Vehicle Charging Business Earning, License, How to Open, Cost, Investment, Profit, Subsidy

भारत में इस समय पेट्रोल(Petrol) और डीजल (Diesal) की बढ़ती हुई कीमतों के कारण और इनके कम होते भंडार के कारण पूरी दुनिया भर में अब कई देश इलेक्ट्रिक वाहनों(Electric Vehicles) की तरफ अपना रुख कर रहे हैं जिसमें हमारा देश भी शामिल है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी होने के कारण सबसे ज्यादा परेशानी आम आदमी को होती है।

इसीलिए गवर्नमेंट भी यह चाहती है कि आम आदमी की परेशानी कुछ कम हो, साथ ही वातावरण में पेट्रोल और डीजल के कारण जो हानिकारक केमिकल फैलते हैं वह भी कम हो। इसलिए गवर्नमेंट इलेक्ट्रिक वाहनों पर विशेष तौर पर ध्यान दे रही है और हमारे भारत देश में भी कई कम्पनियां इलेक्ट्रिक वाहनों का निर्माण करने में लगातार लगी हुई है।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बिजनेस शुरू करें

 

इलेक्ट्रिक वाहन (Electric Vehicle) की इंडिया में अभी शुरुवात ही हो रही है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन का बिजनेस चालू करता है तो अभी से उसे काफी अच्छा फायदा प्राप्त होने लगेगा। और जब इंडिया में अधिक मात्रा में इलेक्ट्रिक वाहन चलने लगेंगे तो उसका बिजनेस काफी तेजी के साथ ग्रो करेगा।

इसलिए जो लोग इलेक्ट्रिक वाहन के फ्यूचर को देख रहे हैं वह यह जानना चाहते हैं कि आखिर इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन का बिजनेस कैसे स्थापित किया जाता है, अथवा इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन का बिजनेस कैसे चालू करें। इस आर्टिकल के द्वारा हम आपको इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन बिजनेस आइडिया इन हिंदी के बारे में जानकारी उपलब्ध करवा रहे हैं।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन क्या होता है

इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन (Electric Vehicle Charging) आप बड़े बस अड्डे के बाहर, रेलवे स्टेशन के बाहर, किसी पेट्रोल पंप के पास अथवा शॉपिंग मॉल के पास स्टार्ट कर सकते हैं। इसके अलावा अब हाईवे के साइड भी इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन की स्थापना की जा रही है। बता दें कि, टोटल 3 प्रकार के इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन ओपन किए जाएंगे, जिसके अंदर कमरीकल टाइप में मॉल, पेट्रोल पंप और रेलवे स्टेशन पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे। दूसरे टाइप में गवर्नमेंट के सभी ऑफिस के अंदर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे।तीसरे टाइप में हाईवे और व्यस्त रोड पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन की स्थापना की जाएगी।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन कहां खोलें सकते है

इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन (Electric Vehicle Charging) आप बड़े बस अड्डे के बाहर, रेलवे स्टेशन के बाहर, किसी पेट्रोल पंप के पास अथवा शॉपिंग मॉल के पास स्टार्ट कर सकते हैं। इसके अलावा अब हाईवे के साइड भी इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन की स्थापना की जा रही है। बता दें कि, टोटल 3 प्रकार के इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन ओपन किए जाएंगे, जिसके अंदर कमरीकल टाइप में मॉल, पेट्रोल पंप और रेलवे स्टेशन पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे। दूसरे टाइप में गवर्नमेंट के सभी ऑफिस के अंदर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे।तीसरे टाइप में हाईवे और व्यस्त रोड पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन की स्थापना की जाएगी।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन खोलने के लिए आप क्या करें

इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन(Electric Vehicle Charging) खोलने के लिए आप डायरेक्ट इंडिया की मिनिस्ट्री ऑफ पावर डिपार्टमेंट के पास अप्लाई कर सकते हैं। आप चाहे तो किसी फेमस कंपनी की फ्रेंचाइजी ले करके भी इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन के बिजनेस को स्टार्ट कर सकते हैं क्योंकि इंडिया में वर्तमान के टाइम में बहुत सारी कंपनियां इसकी फ्रेंचाइजी दे रही है।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन खुलने में कितनी लागत

 

इलेक्ट्रिक  चार्जिंग स्टेशन (Electric Vehicle Charging)खोलना चाहते हैं अथवा किसी कंपनी की फ्रेंचाइजी लेकर इस बिजनेस को करना चाहते हैं। किसी कंपनी की फ्रेंचाइजी लेने पर आपको तकरीबन पांच लाख से ₹9,00000 तक खर्च करने पड़ सकते हैं और अगर आप खुद का इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको तकरीबन ₹3,00000 से लेकर ₹35,00000 तक का इन्वेस्टमेंट करना पड़ सकता है।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन में क्या नियम

गवर्नमेंट के नियम के अनुसार सड़क के दोनों साइड 3 किलोमीटर की दूरी पर इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन ओपन किए जा सकते हैं। पहले यह दूरी 25 किलोमीटर की थी।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन की आप कैसे अप्लाई करें

इलेक्ट्रिक  चार्जिंग स्टेशन (Electric Vehicle Charging) अगर किसी व्यक्ति के पास इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन खोलने के लिए पर्याप्त मात्रा में फंड है तो वह इंडिया की मिनिस्ट्री ऑफ पावर डिपार्टमेंट से कांटेक्ट कर सकता है और वहां से एप्लीकेशन की प्रोसेस के बारे में जानकारी हासिल कर सकता है और एप्लीकेशन कर सकता है।अगर कोई व्यक्ति फ्रेंचाइजी ले करके इस बिजनेस को स्टार्ट करना चाहता है तो वह उस कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर के अप्लाई कर सकता है जिस कंपनी की फ्रेंचाइजी वह ले करके इस बिजनेस को स्टार्ट करना चाहता है।

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बिज़नेस कितनी कमाई

इलेक्ट्रिक  चार्जिंग स्टेशन (Electric Vehicle Charging) से होने वाली कमाई इस बात पर डिपेंड करता है कि आप गाड़ी मालिकों से चार्जिंग करने के बदले में कितने पैसे चार्ज करते हैं, साथ ही यह इस बात पर भी डिपेंड करता है कि आपके इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन में किस टाइप की और कितनी ज्यादा गाड़ियां आती है। एक बात तो तय है कि इस बिजनेस का फ्यूचर में काफी बढ़िया स्कोप है। इसीलिए जो व्यक्ति अभी से इस बिज़नेस में जम जाएगा उसे बिजनेस में आगे चलकर के फायदा ही फायदा होगा।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.