दिव्यांग युवक ने की आत्महत्या एक हादसे में गंवा चुका था अपनी टांग

हादसे के बाद पत्नी ने छोड़ा साथ

टोंक, (फ़िरोज़ उस्मानी)जिले में आत्महत्या का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। देर रात भी सदर थानांतर्गतबम्बोर गांव के एक दिव्यांग युवक ने रस्सी से झूल कर ईह लीला समाप्त कर ली ।
सदर थाना पुलिस ने बताया कि बमोर गांव में एक दिव्यांग ने पोल्ट्री फार्म संचालक सुरेश ने अपने ही फार्म में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना का पता मृतक के पिता को उस समय चला जब वे मवेशी लेकर फार्म गए। मामले की सूचना सदर थाना को दी गई जिसके बाद शव का मौका-मुआयना कर पोर्टमार्टम के लिए अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है।

हादसे में गंवा चुका एक टांग

जानकारी के अनुसार सुरेश गुर्जर पहले ट्रक चालक का काम करता था। जिसमें एक हादसे में उसका एक पांव पूरी तरह से कट गया था।

हादसे के बाद पत्नी ने छोड़ा

इस हादसे के बाद सुरेश की पत्नी भी उसे छोड़कर चली गई थी। सुरेश ने अपनी दुर्घटना क्लेम राशि से करीब 6 महीने पहले ही गांव से कुछ दूर हरचंदेड़ा मार्ग पर पोल्ट्री फार्म शुरू किया था।पुलिस ने बताया की मृतक सुरेस ने अपने फार्म पर ही फंदा लगाकर आत्महत्या की है।

आत्म हत्या के कारणों का खुलासा नही हुआ

हालांकि आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चला है। एएसआई सदर थाना गंगाराम ने बताया कि मृतक सुरेश दिव्यांग होने के कारण नकली पैर लगाकर काम करता था. मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है. पुलिस ने शव को सआदत अस्पताल भेजा है, जहां से शव का पोर्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया जाएगा।पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.