न्यूज़

भरतपुर शहर हुआ जलमग्न ,6 घण्टे से अधिक झमाझम बरसात

 

एक सप्ताह में दूसरी बार हुई

 

भरतपुर(राजेन्द्र जती)। एक सप्ताह में दूसरी बार हुई करीब 6 घंटे से अधिक समय तक झमाझम बारिश ने भरतपुर शहर को जलमग्न कर दिया। इस बरसात से शहर में बाढ जैसे हालात पैदा हो गये। जलभराव के हालात को देखकर जिला प्रशासन एवं नगर निगम में भी हडकंप मच गया। जलभराव क्षेत्रों में पानी निकालने के लिये निगम के किये गये प्रयास भी सफल नहीं हो पाये हैं।

दिन में बरसात नहीं होने से लोगों को राहत जरूर मिली लेकिन पानी के कारण शहर के रास्ते आवागमन के लिये बंद हो गये। पूर्वी राजस्थान में मौसम विभाग द्वारा 24 घंटे में भारी वर्षा की चेतावनी दिये जाने के बाद भी प्रशासन की ओर से माकूल इंतजाम नहीं हो सके जिससे शहर का जलभराव के कारण आवागमन बंद रहा और सडकों के अलावा घरों एवं बाजारों में भी पानी भरा रहा।

इससे चार दिन पहले हुई बरसात का पानी काॅलोनियों में अभी भी भरा हुआ है।आज की बरसात से जवाहर नगर, राजेन्द्र नगर, नदिया मोहल्ला के अलावा जिला कलेक्ट्रेट सहित अधिकारियों के आवासों में भी पानी भरा गया। कलैक्ट्रेट परिसर के अलावा गेट के बाहर सडक पर भी जलभराव रहा।

इसी प्रकार पुलिस अधीक्षक कार्यालय एवं पुलिस लाइन के अलावा यूआईटी सचिव एलके बालोत एवं उनके पास रह रहे अधिकारियों के आवास तथा निगम आयुक्त शिवचरण मीणा के निवास के सामने की सडक एवं पीछे की तरफ भी बरसात का पानी भरा रहा। शहर में नदिया मौहल्ला, नमक कटरा, श्याम नगर, सूरजमल नगर, रूंधिया नगर, जसवंत नगर सहित आधे से अधिक शहर में जलभराव होने से बाढ जैसे हालात बन गये।

बरसात से शहर का ऐसा कोई हिस्सा नहीं बचा जहां जलभराव न हो और लोग परेशान नहीं हो रहे हों। लोगों ने प्रशासन को पानी निकासी का माकूल इंतजाम नहीं करने के कारण देर शाम तक पानी निकासी नहीं हो सकी। हजारों की संख्या में रोजाना आने वाले लोगों को विश्वप्रिय शास्त्री पार्क जवाहर नगर में पानी से लबालब होने के कारण वापिस लौटना पडा।

पिछले 24 घंटों में मौसम विभाग द्वारा भरतपुर शहर में 141 एमएम बरसात होना बताया है जबकि आज सुबह 5 बजे से लेकर दोपहर तक 79.2 एमएम बरसात हुई है। मौसम विभाग द्वारा दी गई सूचना के अनुसार कुम्हेर में 12, नदबई में 17, डीग में 04, भुसावर में 85, नगर में 02, बयाना में 34, रूपवास मंे 35 एवं वैर में 15 एमएम बरसात दर्ज की गई।

जिला कलक्टर संदेश नायक ने बताया कि यूआईटी की तरफ से सेक्टर नं. 3, विश्वप्रिय शास्त्री पार्क, रूंधिया नगर, स्टेडियम नगर, जगन्नाथ पुरी,अशोक विहार सुभाष नगर में पानी निकासी के लिये पंप लगाये हैं। उपखंडअधिकारी पुष्कर मित्तल ने अभय कमाण्ड सेन्टर में पहुंचकर बारिश से शहर के हालात का जायजा लिया।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *