न्यूज़

क्या अमित शाह भाजपा की गुटबाजी को खत्म करेंगे

जयपुर । अमित शाह अपने राजस्थान प्रवास के दौरान वसुंधरा राजे और ओम माथुर की खेमों को क्या एक कर पायेंगे ? विधानसभा चुनाव से करीब पांच माह पहले भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का जयपुर दौरा काफी महत्वपूर्ण होगा। शाह एक साल बाद जयपुर आ रहे है और प्रदेश भाजपा के एक साल के कार्य की समीक्षा करेंगे। शाह नारायण सिंह सर्किल स्थित जैन नसियां में भाजपा प्रदेश कार्य समिति की बैठक के समापन सत्र को सम्बोधित करेंगे।
शाह ने पिछले साल 21 से 23 जुलाई तक जयपुर के तीन दिवसीय दौरे पर आए थे। इस दौरान उन्होंने विभिन्न संगठनात्मक एवं सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियो से मुलाकात की थी। शाह ने प्रदेश भाजपा को अजेय भाजपा का लक्ष्य दिया था। शाह ने कहा था कि अक्टूबर 2017 तक राजस्थान में भाजपा को अजेय बनाया जाएगा। लेकिन शाह की यह घोषणा पूरी नहीं हो पाई और भाजपा को दो लोकसभा एवं एक विधानसभा सीट के उपचुनाव में करारी हार का सामना करना पडा। प्रदेश में दिसम्बर में विधानसभा चुनाव होंगे। इसलिए शाह का 21 जुलाई को प्रस्तावित दौरा काफी महत्वपूर्ण है। शाह पिछले एक साल की संगठन की गतिविधियों की समीक्षा करेंगे और आगामी चुनाव को लेकर कुछ लक्ष्य तय करेंगे। शाह आगामी विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे। शाह सुबह 10 बजे दिल्ली से जयपुर पहुंचे। वह सबसे पहले प्रदेश कार्य समिति के समापन सत्र को सम्बोधित करेंगे। भाजपा प्रदेश कार्यसमित की दो दिवसी बैठक 20 व 21 जुलाई को जैन नसियां में होगी। कार्य समिति की बैठक भाजपा के सभी विधायक, सांसद, मंत्री, जिलाध्यक्ष, मोर्चा, प्रकोष्ठों एवं अन्य अग्रिम संगठनों के अध्यक्ष, प्रदेश पदाधिकारी एवं अन्य विशेष आमंत्रित सदस्य शामिल होंगे। प्रदेश कार्य समिति की बैठक के बाद शाह सॉशल मीडिया वॉलिटिंयर्स की वकॅशॉप को सम्बोधित करेगे। यह वर्कशॉप राजमंदिर थिएटर में आयोजित की जाएगी। राजमंदिर से शाह भाजपा प्रदेश मुख्यालय पहुंचेंगे। वह यहां विभिन्न संगठनात्मक मीटिंग लेंगे।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *