दिल्ली देश

शिक्षिका हत्याकांड खुलासा- नाबालिक से अवैध थे संबंध,वह रखना चाहती थी और नाबालिग…

नई दिल्ली/ शिक्षक/ शिक्षिका को इस धरती पर बहुत बडा माना जाता है और भगवान के बराबर दर्जा दिया जाता है क्योंकि यह ही मार्ग प्रदर्शक होते है और अगर यही शिक्षक/शिक्षिका अनाचारण और गलत करने लग जाए तो फिर क्या रह जाएगा ? एक ऐसी ही घटना उत्तर प्रदेश की धर्म नगरी अयोध्या मे घटित हुई जिसने शिक्षक वर्ग को शर्मसार कर दिया है। जी हां एक गर्भवती शिक्षिका(31) की निर्मम हत्या कर दी गई इस हत्या का जब पुलिस ने एक माह के अथक प्रयास से खुलासा किया तो चौकाने वाला च सामने जिसने शिक्षक समाज को कटघरे मे खडा दिया ।

अयोध्या के श्रीराम पुरम कालोनी शिक्षिका सुप्रिया वर्मा (32) अपने पति और साथ के साथ रहती थी इस शिक्षिका का 1 माह पूर्व 1 जून को उसके घर में निर्मम हत्या कर दी गई थी इस हत्याकांड का खुलासा पुलिस में एक टी-शर्ट के रंग से खोला पुलिस ने इस मामले का खुलासा करने के लिए चुनिंदा अफसरों की एक टीम बनाई जिन्होंने साइबर तकनीकी के साथ साथ ही अलग ढंग से इसकी जांच पड़ताल की और सीसीटीवी फुटेज लिए इससे सूट सूट इमेज में एक नाबालिक घटना को अंजाम देते हुए नजर आ रहा था ।

लेकिन उसका चेहरा साफ दिखाई नहीं दे रहा था परंतु फुटेज में जो टीशर्ट उसने पहनी हुई थी रेडीमेड उसका रंग और पैटर्न साफ दिखाई दे रहा था पुलिस टीम ने टी-शर्ट को अपनी जांच का आधार बनाया और रेडीमेड शॉप अमेजॉन फ्लिपकार्ट सहित उन सभी ऑनलाइन सेंटर पर जो कपड़े सप्लाई के रखते हैं उनका फोटो भेज कर संपर्क किया और जानकारी जुटाने की कोशिश की इसी दौरान पता चला कि घटना के 2 माह पहले ही शिक्षिका सुप्रिया वर्मा के घर के आगे ही एक टी-शर्ट फ्लिपकार्ट से डिलीवर की गई थी इसी को आधार बनाते हुए सुप्रिया वर्मा के पड़ोस में ही रहने वाले नाबालिक तक पहुंची और उस बालक को बुलाया सीधा सवाल किया कि जो टी-शर्ट खरीदनी है ।

वह कहां है इस पर नाबालिग को समझ नहीं पाया उसने आएंगे तो घर पर हैं पुलिस ने टिकट बरामद कर उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा तो उस टी-शर्ट पर खून के धब्बे नजर आए इसके बाद पुलिस ने जब कड़ाई से नाबालिग से पूछताछ की तो उसने अपना अपराध स्वीकार करते हो जो जानकारी पुलिस को दी और चौंकाने वाली थी अयोध्या के पुलिस उप निरीक्षक एसपी सिंह के अनुसार नाबालिग ने 3 साल से उसके और किसी बात को लेकर कुछ दिन पहले ही दोनों में झगड़ा होने से संबंध बिगड़ गए थे।

उसने बताया कि उसे डर था कि यह बात जो उस खुलेगी तो उसके मित्रों और परिवार वालों को गए क्या मुंह दिखाएगा और वह इस रिश्ते से बाहर निकलना चाहता था लेकिन कुछ सबूत उस शिक्षिका के पास है जिसके आधार पर नाबालिग को बदनाम करने की धमकी दे रही थी और दबाव बना रहे थे कि उसके साथ संबंध बनाए रखें और इसी कारण उसने शिक्षिका से पीछा छुड़ाने के लिए उसकी हत्या को अंजाम दिया पुलिस के अनुसार नाबालिक में घटना उस समय कार्य की जब शिक्षिका सुप्रिया वर्मा का पति अपनी मां को लेकर बैंक में एटीएम लेने गया था और इसी दौरान 20 से 25 मिनट के समय में इस बालक ने घटना को अंजाम दिया ।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम