देश

मोदी सरकार के सबसे युवा मंत्री बनते ही 24 घंटे में ही आए विवाद में , कौन

कोलकाता / केंद्रीय मंत्री के तौर पर शपथ लेने के लेते ही कूचबिहार से भाजपा सांसद निशिथ प्रमाणिक विवादों में घिर गए हैं। उनकी शैक्षणिक योग्यता को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं।

कूचबिहार के एक तृणमूल नेता पार्थप्रतिम रॉय ने सोशल मीडिया के जरिये उनकी शैक्षणिक योग्यता पर सवाल उठाया है। उनका सवाल है कि निशीथ प्रमाणिक ने ग्रैजुएशन किया है या सिर्फ सेकेंडरी पास हैं।

उनके दावे के अनुसार, “सांसदों की वेबसाइट में सांसद की शैक्षणिक योग्यता बीसीए (बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन) दर्शाती है, लेकिन चुनाव में उम्मीदवाली को लेकर जो हलफनामा उन्होंने दाखिल किया था उसमें उनकी शैक्षणिक योग्यता माध्यमिक बतायाी गयी है।

 

विदित है की बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल की सरकार के पहले कैबिनेट विस्तार में बंगाल की चार सांसदों ने राज्य मंत्री के तौर पर शपथ ली थी जिसमें कूचबिहार के सांसद निशीथ प्रमाणिक भी शामिल थे । 35 वर्षीय निशीथ प्रमाणिक मोदी मंत्रिमंडल के सबसे युवा मंत्री हैं।

निशिथ प्रमाणिक ने दिनहाटा से विधानसभा चुनाव में जीत भी हासिल की थी, लेकिन पार्टी के निर्देश पर विधायक के रूप में शपथ नहीं ली। इसके अलावा, भाजपा ने लोकसभा और विधानसभा चुनावों में उनके क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन किया है।

तृणमूल नेता पार्थप्रतिम राय के अनुसार भारत सरकार की वेबसाइट india.gov.in के ‘इंडियन पार्लियामेंट’ सेक्शन में निशीथ प्रमाणिक को बीसीए पास का बताया गया है।

उसमें यह भी उल्लेख किया गया है कि उन्होंने वह डिग्री बालाकुंडा जूनियर बेसिक स्कूल से प्राप्त की थी, लेकिन 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान निशीथ ने जो हलफनामा पेश किया, उसमें कहा गया है कि उनकी उच्चतम शैक्षणिक योग्यता सेकेंडरी है।

वह लाल बहादुर शास्त्री विद्यापीठ के छात्र थे और तृणमूल ने इन दोनों तथ्यों को सार्वजनिक कर सवाल उठाया है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम