देश महाराष्ट्र

राजस्थान के उदयपुर की तरह महाराष्ट्र में भी मेडिकल संचालक की हत्या, 5 गिरफ्तार

मुंबई/ राजस्थान के लेक सिटी उदयपुर में भाजपा की निलंबित पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थक कन्हैया लाल साहू टेलर की तालिबानी हत्याकांड की तरह ही महाराष्ट्र के अमरावती में भी नूपुर शर्मा के समर्थक मेडिकल संचालक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई । इस हत्याकांड में पुलिस ने 5 जनों को गिरफ्तार कर लिया है ।

जबकि घटना का मुख्य आरोपी मास्टरमाइंड अभी फरार है टारगेट किलिंग और राजस्थान जैसी घटना का एंगल को देखते हुए एनआईए(NIA) की टीम अमरावती पहुंच गई है और अब एनआईए ने भी इसकी जांच शुरू कर दी है हालांकि अभी स्पष्ट तौर पर खुलासा नहीं हो पाया है कि हत्या की वजह क्या रही ? लेकिन यह जरूर स्पष्ट हुआ है कि हत्या के आरोपियों और मृतक के बीच कोई जान पहचान और कोई लेनदेन संबंधी दुश्मनी नहीं थी।

सिटी कोतवाली पुलिस स्टेशन के अधिकारी अर्जन ठोसरे के अनुसार घनश्याम नगर में रहने वाले द अमित मेडिकल स्टोर के संचालक उमेश प्रल्हादराव कोल्हे( 54) 21 जून की रात को मेडिकल स्टोर बंद करके रात 10 बजे घर लौट रहे थे तभी घंटाघर हनुमान मंदिर गली में नूतन कॉलेज गेट के पास ही बाइक पर आए युवकों ने उमेश को भी सड़क पर रोक कर ताबड़तोड़ चाकू से हमला कर दिया घटना के समय घटनास्थल से 15 मीटर दूरी उमेश का बेटा संकेत अपनी पत्नी के साथ था बेटे ने जब देखा तो दौड़ा तब तक हमलावर भाग चुके थे संकेत ने अपने पिता को अस्पताल में भर्ती कराया जहां उनकी मौत हो गई।

स्थानीय भाजपा नेताओं ने यह दावा किया है कि उमेश की हत्या भी राजस्थान के उदयपुर मैं कन्हैया लाल साहू दर्जी की की गई हत्या की तरह ही है और उमेश निलंबित भाजपा नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट लिखी थी जिसके स्क्रीनशॉट को कुछ अन्य संदिग्ध ग्रुप में वायरल कर दिया था इसके बाद कि उनकी हत्या हुई है।

सूत्रों के अनुसार महाराष्ट्र एटीएस(ATS) इस मामले की जांच आतंकी एंगल से कर रही थी लेकिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस मामले की जांच के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए(NIA) को सौंपने के निर्देश दिया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दिशा निर्देश के बाद उक्त मामले की जांच के लिए एनआईए की टीम अमरावती पहुंच गई है।

उधर पुलिस सूत्रों के अनुसार दिवंगत उमेश के बेटे संकेत कोल्हे की रिपोर्ट पर कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच के बाद शाहरुख पठान( 25 ), मुदस्सिर अहमद (22) को घटना के दूसरे ही दिन गिरफ्तार कर लिया तथा दोनों से पूछताछ के बाद इस हत्या में शामिल अब्दुल तौफीक (24 )आतिफ रशीद (22) शोएब खान (22) तथा शमीम फिरोज अहमद शामिल थे इनमें से शमीम को छोड़कर अन्य सभी को गिरफ्तार कर लिया गया ।

बताया जाता है कि शमीम ही इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड माना जा रहा है । पुलिस सूत्रों के मुताबिक एक आरोपी ने पूछताछ में बताया कि अन्हे एक एनजीओ संचालक ने उमेश को मारने के लिए कहा था इस मामले को लेकर एनआईए की टीम अमरावती पहुंच गई है और जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि आखिर वजह क्या रही ? क्या नूपुर शर्मा का समर्थन करने उस और उसके समर्थन में पोस्ट वायरल करना हत्या का कारण रहा या ? या और कोई वजह उदयपुर हत्याकांड के बाद दिवंगत उमेश के परिजन डरे और सहमे हुए हैं। 

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम