कोरोना का बढ़ता खतरा, रात 10 बजे तक रेस्तरां-दुकानें बंद करने के आदेश

अहमदाबाद। कोरोना के बढ़ते खतरों को देखते हुए महानगर आयुक्त ने शहर के आठ इलाकों में रात 10 बजे तक होटल-रेस्तरां, दुकानों सहित व्यापारिक संस्थाओं को बंद किये जाने का आदेश दिया है। इन इलाकों में जोधपुर, साउथ बोपल, नवरंगपुरा, बोडकदेव, थलतेज, गोता, पालड़ी, घाटलोडिया और मणिनगर शामिल हैं। इसके साथ ही शहर में मानेक चौक और रायपुर खाद्य व पेय बाजार भी बंद रहेंगे।

हालांकि व्यापारिक संगठन महानगर निगम के इस फैसले की आलोचना कर रहे हैं। अहमदाबाद चैम्बर ऑफ कॉमर्स के वेलफेयर फाउंडेशन के अध्यक्ष जयेंद्र तन्ना का कहना है कि अहमदाबाद महानगर निगम ने शहर के 8 वार्डों में किराने और सब्जियों सहित सभी व्यापार को अचानक बंद करने का आदेश दिया है लेकिन मोटेरा स्टेडियम में क्रिकेट मैचों में प्रोटोकॉल के उल्लंघनों को नजरअंदाज किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि सरकार की तरफ से लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाए जाने की प्रक्रिया चल रही है लेकिन अहमदाबाद महानगर निगम क्षेत्र में पिछले एक महीने में कोरोना मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है।गुजरात में कोरोना फरवरी तक लगभग नियंत्रण में था लेकिन चुनाव के समय लोग कोरोना गाइड लाइन की धज्जियां उड़ाते हुए राजनीतिक रंग में रंग गए। जिसका नतीजा अब देखने को मिल रहा है। अहमदाबाद में कोरोना एकबार फिर से चिंताजनक स्थिति पैदा कर रहा है। गुजरात में 28 फरवरी को सक्रिय मामलों की संख्या 632 थी लेकिन अब 14 मार्च को बढ़कर 850 हो गई है। अहमदाबाद और सूरत में पिछले एक महीने में कोरोना मामलों में तेजी देखी गई है।