किसान और भेड बकरी चराने वाले ने अयोध्या राम मंदिर निर्माण मे दिया 2 किलो सोना

Bhilwara news । अयोध्या में भगवान श्री राम मंदिर निर्माण में उनके भूमिपूजन शिलान्यास कार्यक्रम मे देशभर के हिन्दूओ भक्तों, श्रद्धालुओं मे जबरदस्त उत्साह है और हर कोई अपने सामर्थ्य के अनुसार भेंट , दान , सहयोग कर रहा है । एक ऐसा किसान और भेड बकरियां चराने वाले ने भी राम मंदिर निर्माण में …

किसान और भेड बकरी चराने वाले ने अयोध्या राम मंदिर निर्माण मे दिया 2 किलो सोना Read More »

August 3, 2020 6:01 pm

Bhilwara news । अयोध्या में भगवान श्री राम मंदिर निर्माण में उनके भूमिपूजन शिलान्यास कार्यक्रम मे देशभर के हिन्दूओ भक्तों, श्रद्धालुओं मे जबरदस्त उत्साह है और हर कोई अपने सामर्थ्य के अनुसार भेंट , दान , सहयोग कर रहा है । एक ऐसा किसान और भेड बकरियां चराने वाले ने भी राम मंदिर निर्माण में अपनी और से 2, किलो सोना दिया है ।

विश्व हिंदू परिषद के प्रांत सामाजिक समरसता प्रमुख बद्री लाल सोमाणी ने दैनिक रिर्पोटर डाॅट काॅम को बातचीत मे यह जानकारी देते हुए बताया भेड बकरी चराने वाले सामान्य किसान परिवार के डोसल भाई रेबारीसपुत्र हरसुर खेलसी के मन मैं राष्ट्र भक्ति कूट कूट कर भरी हुई है, डोसल भाई रेबारी ने पुलवामा आतंकी हमले के समय प्रत्येक शहीद परिवार को 111111/ एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह रुपये दिए और 65 लाख से भी ज्यादा राशि शहीद परिवार को दी ।। कोरोना महामारी के समय दो माह तक एक हजार से ज्यादा बंधुओं को नियमित भोजन बना कर खिलाया। विश्व विख्यात रामभक्त मोरारी बापू के आदेशानुसार रामेश्वरम धाम, धनुषकोटी के गरीब मछुआरा परिवार के 450 परिजनों के कोरोना काल मे दो माह तक भोजन सामग्री भीजवा दी।

विहिप के बद्री लाल सोमानी ने बताया की सेवा और त्याग की भावना से भरे हुए डोसल भाई रेबारी ने पिछले छ माह मे ही गुजरात की सभी गौशालाओं को करोड़ों रूपयो का सहयोग अपनी सुपुत्री स्वर्गीय हेतल डोसल भाई रेबारी की स्मृति मे कर दिया और हजारों बोरी ज्वार की कबुतरखानों और पक्षियों के भी कोरोना काल मे डलवा दी। डोसल भाई रेबारी छोटे से गांव का निवासी होने के बाद भी बडे दिल का है, राष्ट्रीय संकट काल मैं कोरोना महामारी से संघर्ष के लिए लाखों का सहयोग प्रधानमंत्री सहायता कोष और मुख्यमंत्री सहायता कोष मे भी कर दिया।

डोसल भाई का संक्षिप्त परिचय

डोसल भाई के करीब 609-700 बीघा जमीन है जिस पर कपास की खेती होती है और वह तथा उसके पाता आज भी भेड बकरियां चराते है । डोसल भाई की पुत्री हेतल (17) की हार्ट अटैक से साल 2019 मे दीपावली से समीप ही मौत हो गई थी ।

Prev Post

अल्पसंख्यक अब्बासी महासभा का एक पद एक पौधा अभियान शुरू

Next Post

सचिन पायलट ने कदम पीछे हटाया तो 10 करोड गुर्जरो का अपमान होगा- सुखबीरसिंह जौनापुरिया

Related Post

Latest News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन..